Dates बहुत ही उपयोगी फल माना जाता है। यह खाने में बहुत ही टेस्टी और जायकेदार होता है। मुख्य रूप से छुहारा सूखे क्षेत्र में पाया जाता है। Dates भारत सहित दुनिया के अन्य कई देशों में काफी संख्या में होता है। देखने में यह एक खजूर की भांति ही दिखाई पड़ता है। इसकी सबसे बड़ी खासियत है यह है कि यह खुश्क होता है और कभी खराब नहीं होता। 

Obesity Treatment by Dates

आयुर्वेद के अनुसार इस की तासीर गर्म होती है। परंतु यह बहुत ही शक्तिवर्धक होता है। Dates द्वारा कई बीमारियों का इलाज किया जा सकता है। शरीर के लिए यह रामबाण माना जाता है। आयुर्वेद में कई रोग Dates से ठीक किए जाते हैं। आज हम उन रोगो के बारे में बताएंगे जिनसे छुहारे द्वारा मुक्ति पाई जा सकती है।
मोटापा
मोटापा आज के समय की सबसे बड़ी समस्या है और इससे लगभग आधी आबादी पीड़ित है। मोटापा होने से शरीर में कई बीमारियां जन्म ले लेती हैं। छुहारा मोटापे के लिए बहुत ही अचूक औषधि मानी जाती है। छुआरा रक्तवर्धक है और इसके साथ साथ यह शक्ति भी प्रदान करता है। मोटापा दूर करने के लिए दूध में दो Dates भिगोकर रखें ,जब वह फूल जाए तो कूट पीसकर छानकर रोगी को 7 दिन तक पिलाएं। इससे मोटापा धीरे धीरे कम होना शुरू हो जाता है।
कब्ज की समस्या
कब्ज एक ऐसी बीमारी है जो लगभग शरीर के अंदर सैकड़ों रोगो को जन्म दे देती है।  इसलिए कब्ज से बच के रहना चाहिए। छुहारे से कब्ज का उपचार करने के लिए कब्ज से पीड़ित रोगी को दिन में दो से तीन बार गर्म पानी के साथ लेना चाहिए। ऐसा करने से लगभग 1 सप्ताह में कब्ज से मुक्ति मिल जाती है।
श्वास रोग
श्वास रोग भी इंसान के लिए बहुत ही खतरनाक माना जाता है। यह रोग मुख्यतः प्रदूषण एवं अन्य कई कारणों से भी होता है। छुहारे द्वारा श्वास रोग को ठीक करने के लिए श्वास रोगियों को दिन में तीन बार एक Dates पानी के साथ 1 सप्ताह तक सेवन करना चाहिए। इससे श्वास रोग ठीक हो जाती है और व्यक्ति को सांस की समस्या से मुक्ति मिल जाती है।
पेशाब रोग
पेशाब रोग कई तरह के होते हैं। जिनमें से मुख्य रूप से बार-बार पेशाब आना बच्चों का बिस्तर पर पेशाब निकल जाना इत्यादि। इस तरह के रोगों से पीड़ित व्यक्ति को दिन में दो बार छुहारा खिलाना चाहिए। बच्चों को सिर्फ आधा छुहारा ही देना चाहिए और बड़ों को रात को सोते समय एक छुहारा दूध के साथ लेना चाहिए। इससे बहुत जल्द ही पेशाब रोगों से निजात मिलती है।
Share.

Leave A Reply