Home Latest News अयोध्या में राम मंदिर निर्माण में लगने वाले राजस्थान के लाल पत्थरों...

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण में लगने वाले राजस्थान के लाल पत्थरों की आपूर्ति का रास्ता साफ

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण में लगने वाले राजस्थान के बंशीपहाड़पुर के लाल पत्थरों की आपूर्ति का रास्ता साफ हो गया है। यहां पत्थरों के खनन पर प्रशासनिक प्रतिबंध लगा था। रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की रविवार को सर्किट हाउस में हुई बैठक के बाद ट्रस्ट महासचिव चंपत राय ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि राजस्थान सरकार के प्रयत्नों से बड़ा संकट दूर हो गया। उन्होंने बताया कि बैठक में राम मंदिर निर्माण के प्रगति की समीक्षा की गई और भविष्य में प्रस्तावित कार्यों के डिजाइन पर भी मंथन किया गया।
31 मार्च तक ट्रस्ट के खाते में आए 32 सौ करोड़
ट्रस्ट महासचिव ने बताया कि 14 जनवरी से 27 फरवरी तक चले निधि समर्पण अभियान में देश के पांच लाख 37 हजार ग्रामों में 11 करोड़ परिवारों से सम्पर्क किया गया। इस अभियान में 31 मार्च तक बैंक के खातों में 32 सौ करोड़ की राशि जमा हो गयी। उन्होंने बताया कि चार करोड़ श्रद्धालुओं ने दस रुपये और चार करोड़ से कुछ कम ने एक सौ रुपये का योगदान दिया। इसी तरह एक हजार व उससे अधिक की धनराशि भी लोगों से प्राप्त की गयी। इसके अलावा 80 करोड़ सीधे बैंकों में श्रद्धालुओं की ओर से भेजे गये हैं। उन्होंने बताया कि इस दौरान रामलला की हुंडी में भी करीब साठ लाख का चढ़ावा भी प्राप्त हुआ है।
प्लिंथ, रिटेनिंग वाल व परकोटे में अलग-अलग पत्थरों का होगा प्रयोग
मंदिर निर्माण समिति अध्यक्ष नृपेन्द्र मिश्र ने रामजन्मभूमि ट्रस्ट की बैठक से पहले राम मंदिर निर्माण स्थल पर नींव भराई के कार्य का निरीक्षण किया। इसके उपरांत रामजन्मभूमि परिसर में ही समिति सदस्यों व कार्यदाई संस्था एलएण्डटी व मानीटरिंग संस्था टीईसी के विशेषज्ञों के साथ बैठक की। इस बैठक में निर्माणाधीन कार्य के मटेरियल के अलावा प्लिंथ, रिटेनिंग वाल एवं परकोटे के सम्बन्ध में डिजाइन से लेकर प्रयुक्त होने वाले पत्थरों व उनकी गुणवत्ता के अलावा उनके अलग-अलग मूल्य पर भी गहन विचार विमर्श किया। इस बैठक में ट्रस्ट महासचिव चंपत राय के अलावा शंकराचार्य वासुदेवानंद सरस्वती, विमलेन्द्र मोहन प्रताप मिश्र, डा. अनिल मिश्र, अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी, जिलाधिकारी अनुज कुमार झा व एके सिंह भी मौजूद रहे।
ट्रस्ट की बैठक में दूसरी बार रही ट्रस्टियों की शत प्रतिशत मौजूदगी
रामजन्मभूमि ट्रस्ट की सर्किट हाउस में हुई बैठक में 15 में से नौ सदस्य भौतिक रुप से मौजूद रहे। इसके अलावा ट्रस्ट अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास अस्वस्थता के बाद भी दूसरी बैठक में ऑनलाइन शामिल हुए। उन्होंने बैठक के अंत में सबको आशीर्वाद दिया। इस बैठक में कोषाध्यक्ष महंत गोविंद देव गिरि, संसदीय कार्य के सेक्रेट्री व भारत सरकार के प्रतिनिधि ज्ञानेश कुमार, उडप्पी के शंकराचार्य स्वामी विश्व प्रसन्न तीर्थ, सुप्रीम कोर्ट में रामलला का केस लड़ने वाले वयोवृद्ध अधिवक्ता के. पारासरण व स्वामी परमानंद गिरी महाराज भी ऑनलाइन बैठक में सम्मिलित हुए।

Source – livehindustan.com

Previous articleसीएम योगी की आज कैबिनेट के साथ बैठक हो सकते हैं अहम फैसले, आइए जाने
Next articleऑटो रिक्शा, टेंपो आदि के ड्राइवर एवं ई-रिक्शा के चालकों के लिए आज से विशेष टीकाकरण अभियान की शूरूआत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here