Home Health Tips सूखी खांसी और बलगम वाली खांसी से पाए छुटकारा सिर्फ एक...

सूखी खांसी और बलगम वाली खांसी से पाए छुटकारा सिर्फ एक दिन में, आइए जाने

खांसी जीवाणु का संक्रमण होता है जो कि आरंभ में नाक और गला को प्रभावित करता है। यह प्रायः २ वर्ष से कम आयु के बच्चों की श्वसन प्रणाली को प्रभावित करता है। इस बीमारी का नामकरण इस आधार पर किया गया है कि इस बीमारी से पीड़ित व्यक्ति सांस लेते समय भौंकने जैसी आवाज करता है। यह बोर्डेटेल्ला परट्यूसिया कहलाने वाले जीवाणु के कारण होता है। यह जीवाणु व्यक्तियों के बीच श्वसन क्रिया से निष्कासित जीवाणु से फैलती है। यह तब होता है जब संक्रमण युक्त व्यक्ति खांसते या छींकते हैं। यह संक्रमण युक्त व्यक्तियों के शारीरिक द्रवों से संपर्क होने से भी फैलता है जैसे नाक का पानी गिरना।

खांसी से बचाव के उपाय

बार-बार सूखी खांसी होने पर गले में खरास हो सकती हैं यहां तक कि दमा की शिकायत भी हो सकती हैं। इस समस्या से बचने के लिए वैसे तो बाजार में कई प्रकार की दवाइयां मिल जाती हैं लेकिन ज्यादतर दवाइयों का इस्तेमाल करने पर भी खांसी बनी रहती हैं या कुछ दिन ठीक होने के बाद फिर से उभर आती हैं। लेकिन आयुर्वेद में कुछ ऐसी औषधियां बताई गई हैं जिनका सेवन करने पर सूखी खांसी और बलगम वाली खांसी से जल्द छुटकारा मिल जाता हैं।
अदरक के आयुर्वेद में ढ़ेर सारे रामबाण नुस्खे बताए गए है जिनका उपयोग करके कई प्रकार की बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता हैं। सुखी खांसी और बलगम वाली खांसी होने पर एक छोटा टुकड़ा अदरक, गुड़ के साथ मिलाकर मुंह में रख रखकर धीरे-धीरे चबाएं। इस उपाय को एक से दो दिन करने पर ही 100 फीसदी सूखी खांसी और बलगम वाली खांसी दोनों ही दूर हो जाती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here