Home Lifestyle लड़की के आने से लड़के के जीवन में क्या फर्क पड़ता है,...

लड़की के आने से लड़के के जीवन में क्या फर्क पड़ता है, आइए जाने

प्यार या प्रेम एक एहसास है। जो दिमाग से नहीं दिल से होता है प्यार अनेक भावनाओं जिनमें अलग अलग विचारो का समावेश होता है!,प्रेम स्नेह से लेकर खुशी की ओर धीरे धीरे अग्रसर करता है। ये एक मज़बूत आकर्षण और निजी जुड़ाव की भावना जो सब भूलकर उसके साथ जाने को प्रेरित करती है। ये किसी की दया, भावना और स्नेह प्रस्तुत करने का तरीका भी माना जा सकता है। जिसके उदाहरण के लिए माता और पिता होते है खुद के प्रति, या किसी जानवर के प्रति, या किसी इन्सान के प्रति स्नेहपूर्वक कार्य करने या जताने को प्यार कहा जाता हैं।
जब इंसान इस धरती पर जन्म लेता है और धीरे धीरे चलना फिरना, बैठना और बोलना अपने माता पिता से सीखता है, तब उसका पूरा समय और प्यार अपने मां और पिता के लिए ही होता है| यहाँ तक की उसकी प्राइमरी शिक्षा भी उसकी मां से ही मिलती है मगर जब वह थोड़ा समझने लग जाता है तो उसकी जिंदगी में कोई एक लड़की आती है और उसके जीवन में कई सारे परिवर्तन आने शुरू हो जाते हैं| मेरा यह आर्टिकल उन्हीं लड़को के लिए है जिनकी जिंदगी में जब कोई लड़की आती है तो अचानक क्या क्या परिवर्तन आते है , यह आगे आप खुद ही जान लें –
लड़का जो कभी बिना कंघी किये, डियो लगाए, बेतकल्लुफी से घर से निकल जाया करता था, वही लड़का आईने के सामने खड़े हो कर बाल बनाना सीख जाता है, डियो या परफ्यूम की खुशबू से पूरा लड़का तो क्या पूरा कमरा महकने लगता है|
जो लड़का पिता से पिट-पिट कर बड़ी मुश्किल से पढ़ने के लिए बैठता था, अब पढ़ने के बहाने ढूंढता है| कभी किताबें लाने के लिए तो कभी दोस्त के साथ जॉइंट स्टडी करने के लिए जाता है|
पेड़, पौधे, फूल पत्तियां, नदी, पहाड़ जिसके लिए बस ये ही थे अब उसी के लिए ये सब खूबसूरत वादियां और रोमांटिक मौसम बन गए|
जिस लड़के को हिंदी में अपना नाम भी ठीक से लिखना नहीं आता था, वही अब हिंदी में नज़्में और शायरियां लिखने और सुनाने लगा|
जो रात उमस से भरी होती थी और कटती नहीं थी, अब वही रात शबनम बिखेरती चांदनी की रात बन गई|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here