Home Latest News लखनऊ के इस परिवार में कोरोना के चलते छाया मातम 7 लोगों...

लखनऊ के इस परिवार में कोरोना के चलते छाया मातम 7 लोगों की गई जान

कोरोनावायरस (Coronavirus) कई प्रकार के विषाणुओं (वायरस) का एक समूह है जो स्तनधारियों और पक्षियों में रोग उत्पन्न करता है। यह आरएनए वायरस होते हैं। इनके कारण मानवों में श्वास तंत्र संक्रमण पैदा हो सकता है जिसकी गहनता हल्की (जैसे सर्दी-जुकाम) से लेकर अति गम्भीर (जैसे, मृत्यु) तक हो सकती है।
उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक ऐसा परिवार है जिस पर कोरोना कहर बनकर टूटा है. कोरोना इस परिवार के सात सदस्यों को निगल गया जबकि परिवार का एक बुजुर्ग एक साथ इतनी अर्थियों का दुख नहीं सहन कर सका तो उसकी दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई. परिवार के आठ सदस्यों की मौत पिछले 20 दिन में हो गई. सोमवार को एक साथ 5 लोगों की तेरहवीं की गई. इनमें चार सगे भाई थे. पीड़ित परिवार को प्रशासन से मदद का इंतजार है.
लखनऊ से सटे इमलिया पूर्वा गांव निवासी ओमकार यादव के परिवार पर कोरोना की यह सबसे बड़ी त्रासदी है. परिवार के सदस्य 25 अप्रैल से 15 मई के बीच कोरोना की चपेट में आते गए और उनकी मौत होती गई. ओमकार ने बताया कि उनके 4 भाइयों, मां और दो बहनों की मौत कोरोना संक्रमण के चलते हुई है जबकि बड़ी मां बेटों की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर सकीं. दिल का दौरा पड़ने से उनका भी निधन हो गया.
ओमकार ने बताया, “पूरा परिवार कोविड की चपेट में आ गया था. सुबह हमने 10 बजे माता जी का अंतिम संस्कार किया. फिर दोपहर तीन छोटे भाई का अंतिम संस्कार किया. रेल अधिकारियों ने परिवार के सदस्यों को अस्पताल में भर्ती कराया. इसी बीच मेरे बड़े भाई की मौत हो गई. फिर मेरे एक और छोटे भाई का निधन हो गया. बड़ी मां बेटों की मौत का सदमा बर्दाश्त नहीं कर सकीं. दिल का दौरा पड़ने से उनका भी निधन हो गया.”
प्रशासन से मदद का इंतजारओमकार ने कहा कि अभी तक कोई अधिकारी मदद के लिए आगे नहीं आया है. उन्होंने बच्चों की पढ़ाई और दवाई की चिंता जताई और प्रशासन से मदद की गुहार लगाई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here