Home Lifestyle यह पेड़ सालों पुराने घुटनों के दर्द और बवासीर की समस्या को...

यह पेड़ सालों पुराने घुटनों के दर्द और बवासीर की समस्या को खत्म कर देगा

दर्द या पीड़ा एक अप्रिय अनुभव होता है। इसका अनुभव कई बार किसी चोट, ठोकर लगने, किसी के मारने, किसी घाव में नमक या आयोडीन आदि लगने से होता है। अंतर्राष्ट्रीय पीड़ा अनुसंधान संघ द्वारा दी गई परिभाषा के अनुसार “एक अप्रिय संवेदी और भावनात्मक अनुभव जो वास्तविक या संभावित ऊतक-हानि से संबंधित होता है; या ऐसी हानि के सन्दर्भ से वर्णित किया जा सके- पीड़ा कहलाता है
आज हम एक बार फिर बेहद खास पेड़ के बारे में बताने वाले हैं, जो कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है, इस पेड़ का नाम है बकायन, इसे कड़वा नीम भी कहा जाता है, ये शरीर की कई समस्याओं को खत्म करके हमे सेहतमंद रखने में मददगार होता है, तो चलिए जान लेते हैं इसके बेमिसाल फायदे।
बकायन के फायदे
पागल कुत्ता काटने पर
यदि किसी को पागल कुत्ता काट ले तो उसके जहर से बचने के लिए बकायन का उपयोग कर सकते हैं, बकायन की जड़ का रस निकालकर पीने से कुत्ते का जहर नही फैलता है।
गठिया या जोड़ों के दर्द में
10 ग्राम बकायन की जड़ की छाल को सुबह शाम पानी में पीसकर और छानकर पीने से तो सालों पुराने गठिया और जोड़ों के दर्द से निजात मिल जाती है।
बवासीर में
बकायन के बीजों की गिरी और सौंफ को बराबर मात्रा में मिलकर पीसकर इसमें मिश्री मिलाकर आधे ग्राम की मात्रा में दिन में दो बार अगर सेवन किया जाये तो इससे बवासीर में लाभ होता है।
मुंह के छालों में
10- 10 ग्राम बकायन की छाल और सफेद कत्था को बराबर मात्रा में लेकर चूर्ण बनाकर लगाने से मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here