Home Latest News मेडिकल कॉलेज पर दाखिले के नाम पर धांधली के लगाए आरोप

मेडिकल कॉलेज पर दाखिले के नाम पर धांधली के लगाए आरोप

विकास खंड बिझड़ी की सोहारी पंचायत के निवासी कुलदीप सिंह ने पंजाब के एक निजी कॉलेज में उसके बेटे का दाखिला करवाने के नाम पर धांधली के आरोप लगाए हैं। व्यक्ति ने अपने शिकायत पत्र में कहा है कि कि 2020 में उनके बेटे ने नीट की परीक्षा ददी थी। जिसमें उसके 343 अंक आए। उसके बाद चंडीगढ़ से एक व्यक्ति ने उन्हे फोन किए और बोला कि मैं आपको पंजाब में एक प्राइवेट कॉलेज में बीएएमएस में दाखिल करवा दूंगा। इसके लिए आपको मुझे 25000 व काउंसलिंग के लिए 120000 रुपये कॉलेज को देने होंगे। इस पर पीड़ित ने उस व्यक्ति के खाते में 25000 की राशि जमा करवा दी। उसके बाद उसने बोला कि अब आप होशयारपुर जाएं और वहां पर आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में अधीक्षक के पास 120000 जमा करवाएं। पीड़ित ने वह पैसे भी जमा करवा दिए। लेकिन सीट नहीं दिलवाई गई। 2021 तक उनके कॉलेज में कोई भी एडमिशन नहीं हो पाई है। जबकि पीड़ित के बेटे का नंबर हिमाचल प्रदेश के ही मेडिकल कॉलेज में एमबीबीएस के लिए भी पड़ गया और जब मैंने उनको पैसे वापस देने के लिए फोन किया तो उन्होंने फोन नहीं उठाया। मार्च 2021 में खुद उस आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज में गया और प्रधानाचार्य से बात हुई। उन्होंने बताया कि कॉलेज में एडमिशन ना होने के चलते उनका भी लाखों रुपए का नुकसान हुआ है,, लेकिन फिर भी 30 मार्च तक आपका पैसा आपको लौटा दिया जाएगा। लेकिन मार्च 2021 से लेकर अब तक उन्होंने न तो फोन उठाया ना ही पैसे दिए हैं। इस संदर्भ में कुलदीप चंद का कहना है कि वह एक जेबीटी अध्यापक है और बेटा हिमाचल प्रदेश स्कूल शिक्षा बोर्ड की दसवीं की परीक्षा में भी तीसरे स्थान पर रहा था। उन्होंने उक्त कॉलेज के खिलाफ कार्रवाई करने का मन बना लिया है। अगर शीघ्र ही उपरोक्त कॉलेज में मेरे पैसे वापस नहीं किए गए उपरोक्त कॉलेज की मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया से शिकायत की जाएगी। साथ में में प्रदेश के मुख्यमंत्री से भी अपील की है कि उनको इस संबंध में न्याय दिलाया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here