Home Health Tips किडनी फेल होने का कारण है ये 4 आदतें, बिल्कुल भी नजरअंदाज...

किडनी फेल होने का कारण है ये 4 आदतें, बिल्कुल भी नजरअंदाज ना करें

वृक्क या गुर्दे का जोड़ा एक मानव अंग हैं, जिनका प्रधान कार्य मूत्र उत्पादन (रक्त शोधन कर) करना है। गुर्दे बहुत से वर्टिब्रेट पशुओं में मिलते हैं। ये मूत्र-प्रणाली के अंग हैं। इनके द्वारा इलेक्त्रोलाइट, क्षार-अम्ल संतुलन और रक्तचाप का नियामन होता है। इनका मल स्वरुप मूत्र कहलाता है। इसमें मुख्यतः यूरिया और अमोनिया होते हैं।
आज मैं आपको उनसे आदतों के बारे में बताने वाले हैं। जिन 6 आदतों के कारण आपकी किडनी खराब हो सकती है। तो जितनी जल्दी हो सके आप इनसे आदतों को छोड़ दे। तो आइए जानते हैं इन आदतों के बारे में।
यह है वह 6 आदतें-
1) शराब पीना- अगर आप रोजाना ज्यादा शराब का सेवन करते हैं तो आपकी किडनी फेल हो सकती है। जिसकी वजह से आपको बहुत परेशानियां भी झेलनी पड़ सकती है। क्यों किडनी का जो फंक्शन होता है। वह शरीर के वॉटर के बैलेंस को मेंटेन करती है। और साथ ही यह आपके ब्लड को प्यूरीफायर करता है। जब आप शराब का सेवन करते हैं। तो यह आपके शरीर का एक्स्ट्रा वॉटर बाहर निकाल देता है।
2) पेशाब को रोक कर रखना- बहुत से लोग ऐसे होते हैं कि पेशाब को बहुत ज्यादा देर तक रोक कर रखते हैं। ऐसा बिल्कुल नहीं करना चाहिए। क्योंकि पेशाब को बहुत ज्यादा देर तक रोक कर रखने से गोल्ड ब्लैडर में जमा हो जाता है। और पेशाब को बहुत ज्यादा देर तक रोक कर रखने से यह किडनी में भी जा सकता है जिसके कारण इंफेक्शन और किडनी खराब हो सकती है।
3) बहुत कम पानी पीना- दोस्तों बहुत से लोग ऐसे होते हैं जब प्यास लगती है तभी पानी पीते हैं। और बहुत कम पानी पीने से आपका शरीर डिहाइड्रेट हो जाता है। क्योंकि अगर आप कम पानी पी रहे हैं। तो किडनी आपके शरीर से वेस्ट और टॉक्सिस को बाहर नहीं निकाल पाते हैं। जिससे आपकी किडनी खराब होने का डर रहता है। इसलिए आपको ज्यादा से ज्यादा पानी का सेवन करना चाहिए।
4) ज्यादा नमक खाना- दोस्तो बहुत से लोग ऐसे होते हैं जो खाना में ऊपर से नमक लेकर खाते हैं। नमक में सोडियम की मात्रा बहुत ज्यादा होती है। और सोडियम किडनी का बहुत बड़ा शत्रु है। इसलिए बहुत ज्यादा नमक खाने से बचना चाहिए। क्योंकि नमक यह आपके किडनी की प्रॉब्लम को बढ़ा सकता है। साथ ही ब्लड प्रेशर को भी बढ़ाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here