Home Health Tips अलग-अलग प्रकार के कैंसर के होते हैं यह लक्षण शरीर देता है...

अलग-अलग प्रकार के कैंसर के होते हैं यह लक्षण शरीर देता है इनके संकेत, आइए जाने

कर्क रोग (चिकित्सकीय पद: दुर्दम नववृद्धि) रोगों का एक वर्ग है जिसमें कोशिकाओं का एक समूह अनियंत्रित वृद्धि (सामान्य सीमा से अधिक विभाजन), रोग आक्रमण (आस-पास के उतकों का विनाश और उन पर आक्रमण) और कभी कभी अपररूपांतरण अथवा मेटास्टैसिस (लसिका या रक्त के माध्यम से शरीर के अन्य भागों में फ़ैल जाता है) प्रदर्शित करता है। कर्क के ये तीन दुर्दम लक्षण इसे सौम्य गाँठ (ट्यूमर या अबुर्द) से विभेदित करते हैं, जो स्वयं सीमित हैं, आक्रामक नहीं हैं या अपररूपांतरण प्रर्दशित नहीं करते हैं। अधिकांश कर्क एक गाँठ या अबुर्द (ट्यूमर) बनाते हैं, लेकिन कुछ, जैसे रक्त कर्कट (श्वेतरक्तता) गाँठ नहीं बनाता है। चिकित्सा की वह शाखा जो कर्क के अध्ययन, निदान, उपचार और रोकथाम से सम्बंधित है, ऑन्कोलॉजी या अर्बुदविज्ञान कहलाती है।
कैंसर के लक्षण.
1 त्वचा पर किसी भी जगह पर रंग और आकार में बदलाव आना त्वचा कैंसर का कारण हो सकता है
2 यदि आप धूम्रपान नहीं करते हैं इसके बावजूद भी आपको घबराहट और खांसी होती हैं यह फेफड़ों कि कैंसर का लक्षण हो सकता है.
3 श्रोणि क्षेत्र में दर्द के साथ महिलाओं में लगातार सूजन एक डिम्बग्रंथि के कैंसर का सुझाव दे सकता है।
4 यदि पुरुषों में मिक्चरिशन (पीइंग) के दौरान दर्द होता है, तो यह प्रोस्टेट कैंसर का संकेत हो सकता है।
5 यदि आपके शरीर में सूजन और लिंफ नोड्स है तो यह वर्ल्ड कैंसर का संकेत हो सकते हैं.
6 लंबे समय तक अगर आपको खूनी मॉल आता है यह कोलन कैंसर का संकेत हो सकता है
7 मुंह में खाओ और सांस लेने में दिक्कत होना यह गर्दन का कारण हो सकता है.
8 जीभ और मसूड़े पर घाव होना और लंबे समय तक ठीक ना होना यह मुंह के कैंसर का संकेत हो सकता है.
अगर आपको इनमें से कोई भी संकेत दिखाई दे तो आप जल्द से जल्द डॉक्टर की सलाह ले और अपना चेकअप जरूर कराएं क्योंकि जागरूकता ही कैंसर का इलाज है जितना जल्दी हो सके कैंसर का इलाज प्रारंभ हो जाना चाहिए ताकि कैंसर अपनी अंतिम स्टेज तक न पहुंच सके और जल्द से जल्द कैंसर का इलाज किया जा सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here