Home Health Tips अमृत लगेगा धतूरा ये 5 फायदे जानने के बाद

अमृत लगेगा धतूरा ये 5 फायदे जानने के बाद

धतूरा एक पादप है।। यह लगभग 1 मीटर तक ऊँचा होता है। यह वृक्ष काला-सफेद दो रंग का होता है। और काले का फूल नीली चित्तियों वाला होता है। हिन्दू लोग धतूरे ले फल, फूल और पत्ते शंकरजी पर चढ़ाते हैं। आचार्य चरक ने इसे ‘कनक’ और सुश्रुत ने ‘उन्मत्त’ नाम से संबोधित किया है। आयुर्वेद के ग्रथों में इसे विष वर्ग में रखा गया है। अल्प मात्रा में इसके विभिन्न भागों के उपयोग से अनेक रोग ठीक हो जाते हैं। औषधीय रूप से यह बहुत ही उपयोगी होता है। धतूरे से ऐसी बीमारियों का इलाज किया जा सकता है, जिसकी आपने कल्पना भी नहीं की होगी। इसके बीज जहरीले होते हैं, किन्तु औषधीय रूप से इसका प्रत्येक भाग बहुत कीमती माना जाता है। इसके फायदे जानने के बाद आप भी इसे अमृत कहने लगेंगे। आइये जानते हैं धतूरे के फायदे।
धतूरे के फायदे
1.धतूरे का प्रयोग गंजेपन को दूर करने के लिए फायदेमंद साबित होता है। इसके रस को सिर पर मलने से न केवल डैंड्रफ ख़त्म होती है, बल्कि गंजेपन से भी छुटकारा मिलता है।
2.दर्द से रहत पाने के लिए धतूरे के रस को टिल के तेल में मिलकर गर्म कर लें और दर्द वाली जगह पर इस तेल की मालिश करें।
3.बवासीर के इलाज के तौर पर भी धतूरे का इस्तेमाल किया जाता है। इसके लिए दःतूरे के फूल और पत्तों को जलाकर इसके धुएं से बवासीर के मस्सों की सिकाई करने से भी फायदा होता है।
4.नियमित रूप से धतूरे के रस और तिल के तेल की मालिश करने से जोड़ों की समस्या और गठिया जैसी समस्याओं से न केवल काफी हद तक निजात पाई जा सकती है बल्कि इस रोग को पूरी तरह से मिटाया भी जा सकता है
5.बुखार या कफ होने की स्थिति में लगभग 125 -250 मिलीग्राम धतूरे के बीज लेकर इसे जलाकर राख बना लें और इस राख को मरीज को दें। इससे बुखार या कफ गायब हो जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here