Home Astrology यह 5 वास्तुदोष औरतों के बीमार रहने की वजह बनते हैं

यह 5 वास्तुदोष औरतों के बीमार रहने की वजह बनते हैं

खान पान और रहन सहन के मामले में सावधान होने के बावजूद महिलाएं बीमार रह रही हैं, शास्त्रों के मुताबिक महिलाओं का इस तरह बीमार रहने की वजह वास्तु दोष होते हैं आजकल मार्डन मकानों की चाह में लोगों ने वास्तु शास्त्र द्वारा बताई गई बातों को भुला ही दिया है चाहे महिला हो या पुरूष उनकी हर प्रकार की बीमारी में वास्तुदोष ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं घर में सकारात्क और नकारात्क ऊर्जा के जिम्मेदार भी यही हैं तो चलिए आज जानते हैं महिलाओं के स्वास्थय पर प्रभाव डालते वास्तु दोषों के बारे में।
1.साउथ दिशा के दोष
साउथ दिशा में सर करके सोने वाली औरत का स्वास्थ सदा ढीला रहेगा अगर किसी कारणवश आप सुस्ती या फिर बीमार महसूस कर रहीं है तो घर की उत्तर दिशा में जाकर कुछ देर बैठ जाएं उत्तर दिशा सूर्य की दिशा मानी जाती है जो आपको पूरी तरह ऊर्जा से भर देगी।
2.टॉयलेट के वास्तु दोष
उत्तर पूर्व दिशा में टॉयलेट बनवाने से बचें इस दिशा में बाथरुम या शौचालय बनाने से घर में बीमारी वाला माहौल बना रहता है सबसे ज्यादा असर घर की औरत के स्वास्थय पर पड़ता है।
3.भारी सामान
घर के बीचों बीच किसी भी तरह का भारी सामान रखने से परहेज करें जहां तक हो सके घर की इस दिशा को खाली रहने दें अगर जरुरत लगे तो एक सुंदर सा पौधा या फिर आर्टीफिशल फ्लॉर पॉट रख सकते है।
4.रात का अंधेरा
घर के रंग भी औरतों की सेहत से काफी हद तक जुड़े होते हैं घर को बीमारियों से दूर रखने के लिए रात को अंधेरा करके न सोएं रात के वक्त बरामदे में हल्के नीले रंग का सॉफ्ट बल्ब जगाकर रखने से घरवालों का स्वास्थय सदा अच्छा रहता है।
5.गलत दिशा में पड़ा पानी
घर के दक्षिण पश्चिम भाग किसी भी प्रकार का पत्थर से बना पानी का टैंक बोरवेल या सैप्टिक टैंक उस घर में रहने वाली महिला सदस्य के लिए अशुभ माना जाता है इस दिशा में पानी से जुड़ी कोई भी चीज रखने से घर की महिलाओं का स्वास्थय सदैव ढीला रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here