Home Uttar Pradesh कोरोना वायरस से कब तक मिलेगी राहत जानिए वैज्ञानिकों के क्या है...

कोरोना वायरस से कब तक मिलेगी राहत जानिए वैज्ञानिकों के क्या है जवाब

कोरोनावायरस (Coronavirus) कई प्रकार के विषाणुओं (वायरस) का एक समूह है जो स्तनधारियों और पक्षियों में रोग उत्पन्न करता है। यह आरएनए वायरस होते हैं। इनके कारण मानवों में श्वास तंत्र संक्रमण पैदा हो सकता है जिसकी गहनता हल्की (जैसे सर्दी-जुकाम) से लेकर अति गम्भीर (जैसे, मृत्यु) तक हो सकती है।
कानपुर में कोरोना की दूसरी लहर का पीक आ चुका है। अब धीरे-धीरे संक्रमण में गिरावट आएगी। 20 मई के बाद कोरोना से राहत मिलने की उम्मीद है। यह दावा है आईआईटी के वरिष्ठ वैज्ञानिक व पद्मश्री प्रो. मणींद्र अग्रवाल का। उन्होंने कंप्यूटिंग मॉडल सूत्र तैयार किया है, जिसमें गणितीय विश्लेषण के आधार पर यह दावा किया है। यह खबर सिर्फ कानपुर के लिए नहीं बल्कि लखनऊ, प्रयागराज व वाराणसी के लिए भी अच्छी खबर है। इस मॉडल के अनुसार इन तीनों शहरों में भी कोरोना का पीक आ चुका है और अब गिरावट दर्ज की जाएगी।
प्रो. मणींद्र अग्रवाल के कंप्यूटिंग मॉडल के अनुरूप अभी तक मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही थी और मृत्यु दर भी अधिक थी। उन्होंने अलग-अलग राज्यों के डाटा के आधार पर यह मॉडल तैयार किया है। इस मॉडल में हर राज्य की अलग स्थिति है। उन्होंने पिछले साल के केस और कोरोना की दूसरी लहर के डाटा के आधार पर मॉडल तैयार किया है। मॉडल के अनुसार कानपुर में 28 अप्रैल तक पीक आना था, इसके बाद गिरावट दर्ज होनी थी। वर्तमान आंकड़ों के मुताबिक 30 अप्रैल तक सबसे अधिक केस रहे, इसके बाद से लगातार गिरावट आ रही है। प्रो. मणींद्र ने कहा कि विश्लेषणात्मक रिपोर्ट और एक्चुअल रिपोर्ट में एक-दो दिन का फर्क बेहद मामूली होता है। हालांकि अभी कई राज्यों में कोरोना संक्रमण का पीक आना बाकी है।
कब आएगा पीक और कब दिखेगा उतार

शहर पीक टाइम राहत
कानपुर 28-30 अप्रैल 20 मई के बाद
लखनऊ 28 अप्रैल 20 मई के बाद
प्रयागराज 28 अप्रैल 20 मई के बाद
वाराणसी 26-28 अप्रैल 20 मई के बाद
नोएडा 8-12 मई 12 के बाद धीरे-धीरे
सूरत 10 मई 21 जून के आसपास
रांची 24 अप्रैल 1 जून के बाद
मुंबई 20-22 अप्रैल एक जून के आसपास
पटना 24-26 अप्रैल एक जून के आसपास
चेन्नई 25-30 मई एक जून से उतार
कोलकाता 12 मई 12 मई के बाद
भोपाल 24-28 अप्रैल एक जून के बाद
बेंगलुरु 5-10 मई 10 मई के बाद धीरे-धीरे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here