Home Latest News राज्य में 8 केंद्रों पर खरीदा जा रहा किसानों से गेहूं, आइए...

राज्य में 8 केंद्रों पर खरीदा जा रहा किसानों से गेहूं, आइए जाने

राज्य में आठ केंद्रों पर खरीदी जा रही किसानों से गेहूं
हिमाचल प्रदेश में किसानों से 27 मई, 2021 तक रिकाॅर्ड 89,839 क्विंटल गेहूं की खरीद की जा चुकी है। यह जानकारी देते हुए ग्रामीण विकास, पंचायती राज, कृषि, मत्स्य एवं पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि गत वर्ष के मुकाबले अब तक 187 प्रतिशत अधिक गेहूं की खरीदी गई है, जो एक रिकाॅर्ड है। पिछले वर्ष इतनी ही अवधि में किसानों से 58,544 क्विंटल गेहूं खरीदी गई थी।
कृषि मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि किसानों की सुविधा के लिए कोरोना के बीच राज्य में आठ केंद्रों पर गेहूं की खरीद की जा रही है। सिरमौर जिला के पांवटा साहिब में 27,014 क्विंटल तथा काला अंब में 487 क्विंटल गेहूं की खरीद की गई है। जिला ऊना के कांगड़ में 16,833 क्विंटल व टकारला में 9722.50 क्विंटल, जबकि कांगड़ा जिला के ठाकुरद्वारा में 15,662 क्विंटल व फतेहपुर में 8935 क्विंटल गेहूं की खरीद की गई है। उन्होंने बताया कि इसके अतिरिक्त बिलासपुर जिला के पट्टा घुमारवीं में 402.50 क्विंटल, जबकि सोलन के नालागढ़ में 10,782 क्विंटल गेहूं की खरीद हुई है। उन्होंने कहा कि सरकार की इस सुविधा का लाभ अब तक 2174 किसान उठा चुके हैं। कोरोना संकट के बीच कफ्र्यू के कारण प्रदेश के किसानों को कहीं कोई समस्या न हो, इसलिए सरकार किसानों से घर-द्वार पर गेहूं की खरीद की जा रही है। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार किसानों की समस्या सुलझाने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने बताया कि जब तक किसानों से गेहूं का एक-एक दाना नहीं खरीदा जाता, तब तक सरकारी गेहूं खरीद केंद्र कार्यशील रहेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों से 1975 रुपये प्रति क्विंटल की दर से गेहूं खरीदी जा रही है।
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि हिमाचल प्रदेश के किसानों से एफसीआई के माध्यम से गेहूं की खरीद की तिथि को 31 मई, 2021 से बढ़ाकर 10 जून, 2021 किया गया है। उन्होंने कहा कि एफसीआई ने प्रदेश में गेहूं की खरीद का लक्ष्य भी बढ़ाया है। पहले एफसीआई ने प्रदेश के किसानों से 6000 मीट्रिक टन गेहूं की खरीद करने का लक्ष्य रखा था, जिसे बढ़ाकर 12500 मीट्रिक टन कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार किसानों के हित सुरक्षित रखने के लिए प्रतिबद्ध है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here