Home Latest News मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में पोस्ट कोविड मरीजों के मुफ्त...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश में पोस्ट कोविड मरीजों के मुफ्त इलाज का दिया आदेश

कोरोनावायरस (Coronavirus) कई प्रकार के विषाणुओं (वायरस) का एक समूह है जो स्तनधारियों और पक्षियों में रोग उत्पन्न करता है। यह आरएनए वायरस होते हैं। इनके कारण मानवों में श्वास तंत्र संक्रमण पैदा हो सकता है जिसकी गहनता हल्की (जैसे सर्दी-जुकाम) से लेकर अति गम्भीर (जैसे, मृत्यु) तक हो सकती है।
मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने उत्‍तर प्रदेश में पोस्‍ट कोविड मरीजों के मुफ्त इलाज का आदेश दिया है। प्रमुख सचिव ने इस बारे में शासनादेश जारी कर दिया है। नए आदेश के तहत कोरोना संक्रमण से उबरने के बाद इससे जुड़े लक्षणों और दुष्प्रभावों से जूझने वाले मरीजों का इलाज होगा। कोरोना वायरस फेफड़ों को सर्वाधिक प्रभावित कर रहा है।
इसके साथ ही किडनी, लिवर, हार्ट और धमनियों को भी वायरस प्रभावित कर रहा है। सीएम ने पिछले दिनों टीम-9 की बैठक में कहा था कि रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद जिन लोगों को अन्य बीमारियां हो रही हैं, उन्‍हें सरकारी अस्पतालों में भर्ती करने की व्यवस्था की जाए।
सीएम ने कुशीनगर-देवरिया का दौरा किया, अचानक पीएचसी पहुंचे सीएम योगी
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देवरिया में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मझगांवा का औचक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान मुख्‍यमंत्री ने स्वास्थ्यकर्मियों से वैक्सीनेशन का हाल पूछा। आसपास के गांवों के लोगों को जागरूक करने के लिए कहा।
मुख्यमंत्री का देवरिया दौरा पहले से तय था। कतरारी और मुकुन्दपुर गांव का दौरा मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में शामिल था। इसके साथ ही अधिकारियों ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के औचक निरीक्षण की सम्‍भावना को देखते हुए प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र मझगावां को तैयार कर रखा था। करीब पौने 12 बजे मुख्यमंत्री का काफिला अचानक मझगावां पहुंच गया। गेट से घुसते ही बाईं तरफ कोरोना जांच हो रही थी तो दाईं तरफ टेंट लगाया गया था। सबसे पहले मुख्यमंत्री की नजर बाईं तरफ हो रही कोरोना टेस्टिंग पर पड़ी।
सीएम थोड़ी देर के लिए ठहरे। वहां कोरोना जांच कर रहे एलटी विश्वभान सिंह ने उन्‍हें प्रणाम किया। मुख्यमंत्री ने हाथ हिला कर स्वास्थ्य केन्द्र की बिल्डिंग में प्रवेश किया। प्रवेश करते ही वह दाईं तरफ वैक्सीनेशन कक्ष में पंहुचे। वहां ड्यूटी पर तैनात बीएसडब्‍ल्‍यू धीरज कुमार, एएनएम प्रियंका तिवारी और सीएचओ निरूपा भाष्कर मौजूद थे। उन्होंने उनसे भी प्रश्न किया। पूछा कि सुबह से कितने लोगों को टीका लगा तो स्वास्थकर्मियों ने बताया- तीन। फिर पूछा कि पहली या दूसरी डोज तो उन्‍होंने बताया कि पहली डोज लगी है।
टीकाकरण के लिए जागरूक करने का आह्वान
इसके बाद मुख्‍यमंत्री ने स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों से कहा कि आप लोग आसपास के गांवों में जाकर लोगों को टीका लगवाने के लिए जागरूक भी करें। इसके बाद मुख्‍यमंत्री आब्जर्वेशन रूम की तरफ बढ़े। वहां पर टीका लगवाने के लिए यशोदा देवी, बिन्दी देवी, अमरनाथ बैठे थे।
मुख्यमंत्री ने उन लोगों से पूछा कि पहला टीका लगा है या दूसरा तो लोगों ने बताया कि पहला। फिर पूछे कि वैक्सीन कहां रखी है तो स्वास्थ्यकर्मियों ने बताया कि कोल्ड चेन कक्ष में। मुख्‍यमंत्री कोल्ड चेन कक्ष में पहुंचे। उन्‍होंने वहां चारों तरफ नज़र दौड़ाई और वापस गेट की तरफ बढ़ गए। आगे के कार्यक्रम के लिए निकल गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here