Home Latest News महावीर के दौरान भी महिलाएं लगवा सकती हैं वैक्सीन, आइए जाने

महावीर के दौरान भी महिलाएं लगवा सकती हैं वैक्सीन, आइए जाने

हरदोई : कोरोना वैक्सीन माहवारी के दौरान भी लगवाई जा सकती है। 28 मई को विश्व मासिक धर्म स्वच्छता दिवस है। टीकाकारण को बढ़ावा देने के लिए इस खास दिवस पर स्वास्थ्य विभाग जागरूकता अभियान चला रहा है। कोरोना संक्रमण फैला हुआ है और 18 वर्ष से अधिक के युवाओं को टीका लगना शुरू होने जा रहा है। ऐसे में युवतियों के मन में यह सवाल है कि माहवारी के समय में टीका लगवाना चाहिए या नहीं। इस संबंध में डॉ. अमृता अग्रवाल ने बताया कि माहवारी का कोविड के टीके से कोई संबंध नहीं है, माहवारी के समय भी टीका लगाया जा सकता है। यदि टीका लगने के बाद टीके की जगह दर्द हो या बुखार हो तो पैरासिटामाॅल की गोली खा सकते हैं। माहवारी के दौरान शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम नहीं होती है।
माहवारी स्वच्छता व प्रबंधन के बारे में महिलाओं और किशोरियों को जानकारी देना बहुत जरूरी है ताकि वह सशक्त हों, उनमें आत्मविश्वास जागे और वह माहवारी प्रबंधन के लिए उपलब्ध साधनों के बारे में और उपयोग के संबंध में स्वयं निर्णय ले सकें। इसके लिए विद्यालयों के पाठ्यक्रम, नीतियों और कार्यक्रम में माहवारी स्वच्छता से संबंधित जानकारी शामिल कराई जानी चाहिए। समाज में युवकों, पुरुषों, शिक्षकों व स्वास्थ्य कर्मचारियों को इससे संबंधित जानकारी उपलब्ध करानी चाहिए, जिससे उन्हें माहवारी से जुड़े नकारात्मक मानदंडों के संबंध में सही जानकारी हो पाए और वह इन्हें दूर करने में मदद कर सकें।
माहवारी के दौरान स्वच्छता के अभाव में प्रजनन प्रणाली के संक्रमित (आरटीआई) होने की संभावना बढ़ जाती है। इसलिए विद्यालयों, सार्वजनिक स्थानों व कार्यस्थलों में स्वच्छता से जुड़ी चीजें, जैसे उपयुक्त शौचालय, साबुन, पानी और माहवारी में इस्तेमाल पैड के सही तरीके से निस्तारण की सुविधाएं उपलब्ध कराई जानी चाहिए। ऐसा इसलिए जरूरी है क्योंकि माहवारी के पांच दिनों में यदि हम सुरक्षित प्रबंधन नहीं करते हैं तो पेशाब की थैली, नली व बच्चेदानी में संक्रमण हो सकता है और आगे चलकर बच्चेदानी के मुंह में सिस्ट व घाव हो सकता है। लंबे समय तक संक्रमण मृत्यु का कारण भी बन सकता है। संक्रमण से बचने के लिए साफ-सफाई अतिआवश्यक है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here