Home Uttar Pradesh क्या है सीएम योगी का प्लान ब्लैक फंगस को रोकने के लिए,...

क्या है सीएम योगी का प्लान ब्लैक फंगस को रोकने के लिए, आइए जाने

कोरोनावायरस (Coronavirus) कई प्रकार के विषाणुओं (वायरस) का एक समूह है जो स्तनधारियों और पक्षियों में रोग उत्पन्न करता है। यह आरएनए वायरस होते हैं। इनके कारण मानवों में श्वास तंत्र संक्रमण पैदा हो सकता है जिसकी गहनता हल्की (जैसे सर्दी-जुकाम) से लेकर अति गम्भीर (जैसे, मृत्यु) तक हो सकती है।
यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि कोरोना महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई के बीच ही ‘ब्लैक फंगस’ नामक नई बीमारी का असर भी देखा जा रहा है। उन्होंने निर्देश दिया कि अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य और प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा और राज्य स्तर पर गठित स्वास्थ्य विशेषज्ञों की समिति इस संबंध में विमर्श करते हुए बचाव, सावधानियां, लाइन ऑफ ट्रीटमेंट, तैयारियों आदि के बारे में मुख्यमंत्री कार्यालय को विस्तृत रिपोर्ट दें।
रिकवरी दर हर दिन बेहतर
मुख्यमंत्री ने बुधवार को कोविड-19 प्रबंधन के लिए टीम-9 के साथ वर्चुअल बैठक में कहा कि कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट की नीति के अनुरूप सभी प्रदेशवासियों के जीवन व जीविका की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए सभी जरूरी प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि प्रदेश में 1,52,725 लोग होम आइसोलेशन में हैं। ऐसे मरीजों और उनके परिजनों को जरूरत के अनुसार मेडिकल किट उपलब्ध कराई जाए। यूपी 45 वर्ष से अधिक और 18-44 आयु वर्ग के लोगों को कोविड सुरक्षा कवर प्रदान करने में पहले स्थान पर है। अब तक 1,11,63,988 लोगों को पहली डोज और 29,35,607 लोगों को दूसरी डोज लग चुकी है। निरक्षर, दिव्यांग, निराश्रित या अन्य जरूरतमंदों को टीके के लिए कॉमन सर्विस सेंटर पर पंजीयन की सुविधा दी जाए।
केंद्र को भेजेंगे प्रस्ताव
मुख्यमंत्री ने कहा कि पीएम केयर्स से प्रदेश के सभी जिलों में ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना की स्वीकृति मिल गई है। उन्होंने केंद्र सरकार को प्लांट लगाने का प्रस्ताव तत्काल भेजने के निर्देश दिए। पीएम केयर्स से 161 ऑक्सीजन प्लांट लगेंगे। एक सप्ताह पूर्व तक मेडिकल कॉलेजों में 300-350 मीट्रिक टन की मांग हो रही थी ऑक्सीजन ऑडिट से यह 250-300 मीट्रिक टन तक हो गई है। किसी भी मृतक की अंत्येष्टि के लिए जल प्रवाह की प्रक्रिया पर्यावरण के अनुकूल नहीं है। इस संबंध में धर्मगुरुओं से संवाद किया जाए, लोगों को जागरूक किया जाए।
बेड बढ़ाने पर ध्यान दें
उन्होंने कहा कि भविष्य की जरूरत को देखते हुए बेड बढ़ोतरी के लिए सभी विकल्पों पर ध्यान देते हुए कार्यवाही की जाए। चिकित्सा शिक्षा मंत्री इसकी दैनिक समीक्षा करें। राज्य स्तर पर गठित स्वास्थ्य विशेषज्ञों की परामर्शदात्री समिति के आकलन, अनुशंसाओं आदि संबंधी रिपोर्ट पर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में एसीएस स्वास्थ्य, एसीएस ग्राम्य विकास एवं पंचायती राज व प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा की समिति प्राथमिकता के साथ विचार करे।
सांसद विधायक निधि से सहयोग करें
सहारनपुर में नए ऑक्सीजन प्लांट अगले दो दिन में चालू हो जाएंगे। चीनी विभाग 75 जिलों में प्लांट स्थापना कर रहा है। निजी क्षेत्र भी ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करा रहे हैं। एयर सेपरेटर यूनिट, ऑक्सीजन प्लांट की स्थापना आदि के संबंध में सांसद व विधायक निधि से सहयोग किया जा सकता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अवैध शराब की बिक्री पूरी तरह समाप्त करने के लिए सख्त कार्रवाई की जाए। साझा रसोई में स्वयंसेवी संस्थाओं का सहयोग लिया जाए।
11 दिनों में संक्रमण दर में कमी
मुख्यमंत्री ने कहा कि यूपी में बीते 11 दिनों में कोविड संक्रमण में कमी आई है, यह संतोषजनक है। अब तक 13 लाख 40 हजार 251 प्रदेशवासियों ने कोविड को हराकर आरोग्यता प्राप्त की है। प्रदेश में वर्तमान में 2,06,615 सक्रिय केस हैं, जो संक्रमण के पीक 3.10 लाख से 1.04 लाख कम है। देश में सर्वाधिक कोरोना जांच करने वाला राज्य यूपी है। अब तक 4.51 करोड़ जांचें की गई हैं। एक लाख आरटीपीसीआर जांच समेत 2.45 लाख जांच 24 घंटों में ही की गई हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिलों को रोजाना डेढ़ लाख नमूने एकत्र कर प्रयोगशालाओं में भेजने का लक्ष्य दिया जाए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here