Home Lifestyle पत्नियां हमेशा गुप्त रखते हैं अपने पति से यह 3 जरूरी बातें,...

पत्नियां हमेशा गुप्त रखते हैं अपने पति से यह 3 जरूरी बातें, जिनको पढ़कर रह जाएंगे दंग

पति बहुत-सी हिन्द-ईरानी भाषाओँ में ‘स्वामी’ या ‘मालिक’ के लिए एक शब्द है। यह संस्कृत, हिन्दी, अवस्ताई फ़ारसी और बहुत सी अन्य भाषाओँ में देखा जाता है। इसका स्त्रीलिंग रूप ‘पत्नी’ है, जिसका अर्थ ‘स्वामिनी’ या ‘मालकिन’ निकलता है। यह शब्द अक्सर दूसरे शब्दों के पीछे स्वामित्व दिखाने के लिए जोड़ा जाता है, जैसे कि ‘लखपति’, ‘सेनापति’ और ‘क्षेत्रपति’। आधुनिक हिन्दी, नेपाली, बंगाली और अन्य हिन्द-आर्य भाषाओँ में अकेले ‘पति’ शब्द का अर्थ ‘शौहर’ होता है और ‘पत्नी’ का अर्थ ‘बीवी’। यह ‘दम्पति’ जैसे शब्दों में भी प्रयोग होता है, जिसका अर्थ है ‘घर के मालिक-मालकिन’।
आचार्य चाणक्य एक महान ज्ञानी के साथ-साथ एक अच्छी नीति कार भी थे। आज की इस पोस्ट में हम आपको चाणक्य नीति में बताई हुई समझदार स्त्री की उन चार बातों के बारे में बताने जा रहे हैं। जिन्हें पत्नी को हमेशा गुप्त रखना चाहिए।
1- चाणक्य ने बताया कि पति और पत्नी के बीच अक्सर छोटे-मोटे झगड़े होते हैं। झगड़े से जुड़ी कोई बात पत्नी को कभी मायके नहीं बतानी चाहिए। इससे रिश्ते में दरार आ सकती है। कई बार परिवार में हुए झगड़े समाज के लोगों को पता चलने पर वह आप से दूरी बना सकते हैं।
2- चाणक्य कहते हैं की अगर आपके पति को किसी चीज से डर लगता है तो यह बात समाज के लोगों तथा किसी अन्य व्यक्ति को ना बताएं। पति का डर किसी अन्य व्यक्ति को पता चल जाने पर वह आपके पति का फायदा उठा हैं। जिससे आपके पति की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।
3- चाणक्य कहते हैं कि पत्नी को कभी अपने पति की बीमारी के बारे में किसी अन्य व्यक्ति या समाज के लोगों को नहीं बताना चाहिए। बीमारी का पता लोगों को चल जाने वह आपके पति से दुंरिया बना सकते हैं, जिससे आपकी मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here