Home Lifestyle चाणक्य के अनुसार भूलकर भी पुरुषों को किसी को भी नहीं बतानी...

चाणक्य के अनुसार भूलकर भी पुरुषों को किसी को भी नहीं बतानी चाहिए यह 4 बातें, नहीं तो जिंदगी भर पछताना पड़ेगा….|

आचार्य चाणक्य की बताई बातें निश्चित ही कई प्रकार की परेशानियों से बचाती हैं। कई बार लोग अनजाने में कुछ ऐसी बातें दूसरों को बता देते हैं, जो नहीं बतानी चाहिए और जिसके बताने से भविष्य में किसी बड़े संकट का खतरा रहता है। तो जानिए वो चार बातें कौन सी हैं.

छुपाने योग्य पहली बात हमें अपनी धन संबंधी बातें किसी को नहीं बतानी चाहिए। अर्थ नाश यानी यानि हमें धन की हानि का सामना करना पड़ रहा है और हमारी आर्थिक स्थिति ख़राब है तो किसी के सामने नहीं कहना चाहिए। समाज में ऐसी चलन है कि गरीब व्यक्ति को धन तो मिल जाती है लेकिन पैसे वाले को धन मिलने में दिक्कत होती है। गुप्त रखने योग्य दूसरी बात चाणक्य के अनुसार हमें कभी भी दुख की बातें किसी पर जाहिर नहीं करनी चाहिए। यदि हम अपना दुःख दूसरे से बांटते हैं तो लोग उसका मजाक बना सकते हैं। क्योंकि समाज में ऐसे लोगों की कमी नहीं है जो दूसरों के दुखों का मजाक बनाते हैं।
तीसरी बात हमें अपनी पत्नी का चरित्र किसी से जग जाहिर नहीं करना चाहिए। हमें पत्नी से जुड़ी सभी बातें गुप्त रखनी चाहिए। ऐसा करने से भविष्य में भयंकर परिणाम झेलने पड़ सकते हैं। चौथी बात छुपाने योग्य चौथी बातयदि जीवन में कभी भी किसी नीच व्यक्ति ने हमारा अपमान किया हो तो वह घटना भी किसी को बतानी नहीं चाहिए। ऐसी घटनाओं की जानकारी अन्य लोगों को मालूम होगी जिससे हमारी प्रतिष्ठा में कमी आएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here