Home Ajab Gajab शायद आप भी नहीं जानते होंगे महाभारत के शकुनि मामा के पास...

शायद आप भी नहीं जानते होंगे महाभारत के शकुनि मामा के पास ए का ये रहस्य, जानकर रह जाएंगे हैरान

महाभारत के बारे में शायद ही ऐसा कोई होगा जिसे जानकारी न हो. महाभारत का युद्ध सत्ता के लालच में लड़ा गया सबसे भीषण युद्ध था. जिसके बारे में आज भी कुरुक्षेत्र में कुछ निशान मिलते हैं. ऐसा कहा जाता है कि, इस युद्ध में मानव जाति की सबसे बड़ी हानि हुई थी. महाभारत का युद्ध जिस वजह से शुरू हुआ था उसके सूत्रधार कौरवों के मामा शकुनि(Shakuni) थे. इन्हीं की वजह से कौरव और पांडव के बीच लड़ाई शुरू हुई थी. जिस जुआ में पांडवों ने अपना सबकुछ गवां दिया था उसके पीछे मामा शकुनि का हाथ था. शकुनि के पास जो पासा था वो रहस्यमयी था और शकुनि(Shakuni) के मुताबिक गिरता था.

कहा जाता है कि, शकुनि जुआ खेलने में बहुत माहिर था और उसने ये लत कौरवों को भी लगा दी थी. शकुनि की इस चाल के पीछे की मंशा पांडवों के साथ ही कौरव वंश खत्म करने की थी क्योंकि उसने कौरवों का समूल नाश करने की सौगंध खाई थी.

इसके लिए शकुनि ने दुर्योधन को अपना मोहरा बनाया और उसी के जरिए हर चाल चलता था. लेकिन इस बात से कौरव पूरी तरह अनजान थे. शकुनि(Shakuni) हमेशा इसी जुगत में रहता था कि, किसी तरह कौरवों का पांडव के साथ युद्ध छिड़ जाए और कौरवों का विनाश हो जाए.

शकुनि के पासे को लेकर कई तरह की कहानियां लोक कथाओं मं प्रचलित हैं. इस पासे की सच्चाई क्या है ये एक रहस्य बना हुआ है. कुछ लोगों का कहना है कि, शकुनि(Shakuni) का पासा उसके पिता के रीढ़ की हड्डियों से बना था जिसकी वजह से वो शकुनि के इशारे पर चलता था. इसके अलावा लोक कथाओं के अनुसार शकुनि का पासा हाथी के दातों से बने थे और शकुनि के मायाजाल और सम्मोहन की मदद से पासे को अपने पक्ष में पलट लेता था.

इसके अलावा ये भी कहा जाता है कि, पासे के अंदर एक जीवित भंवरा था जो हर बार शकुनि(Shakuni) के इशारे पर पासे को पलट देता था. ये बात शकुनि का सौतेला भाई मटकुनि अच्छी तरह से जानता था कि, पासे के भीतर भंवरा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here