Home Entertainment बॉलीवुड का वह विलेन जो महानायक अमिताभ बच्चन से भी ज्यादा लेता...

बॉलीवुड का वह विलेन जो महानायक अमिताभ बच्चन से भी ज्यादा लेता था फीस, नाम जानकर यकीन नहीं होगा

बॉलीवुड ने कई ऐसे खलनायक देखे हैं जिन्होंने दर्शकों के दिल में खौफ भी पैदा किया और उनके स्क्रीन पर आते ही दिल की धड़कने भी बढ़ीं. इस लिस्ट में अमरीश पुरी से लेकर गुलशन ग्रोवर तक, कई ऐसे नाम याद आ जाते हैं. लेकिन बॉलीवुड ने एक और विलेन ऐसा पाया है जिसके काम ने सभी को डराया भी, रुलाया भी और कुछ मौकों पर हंसाया भी. अपने कमाल के अभिनय से सभी के दिल मे अलग जगह बनाने वाले उस अभिनेता का नाम है प्राण.

 

बॉलीवुड का नायाब खलनायक

प्राण ने अपनी एक्टिंग का जौहर उस दौर में दिखाया था जब राजेश खन्ना, अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र जैसे तमाम दिग्गज दर्शकों के दिल पर राज करते थे. उस समय इन तीनों का ही सिक्का चलता था. लेकिन उस जमाने में भी प्राण एक ऐसे कलाकार थे जिन्होंने अपनी एक्टिंग से तो सुर्खियां बटोरी हीं, इसके अलावा उनकी फीस भी हमेशा चौंकाने वाली रही. कहा जाता है कि 1969 से 1982 तक प्राण को सुपरस्टार राजेश खन्ना से भी ज्यादा फीस मिलती थी. सिर्फ यही नहीं महानायक अमिताभ बच्चन को भी फीस के मामले में प्राण ने काफी पीछे छोड़ दिया था.

अमिताभ-राजेश खन्ना से ज्यादा फीस

डॉन फिल्म के लिए एक तरफ अमिताभ को ढाई लाख रुपये दिए गए थे, तो वहीं प्राण ने उसी फिल्म के लिए पूरे 5 लाख लिए थे. वे कहने को विलेन बनते थे, लेकिन उनका स्क्रीन पर औहदा काफी ज्यादा रहता था. यही वजह थी कि मेकर्स उन्हें कई मौकों पर हीरो से ज्यादा पैसे देने से भी गुरेज नहीं करते थे. खुद प्राण भी ये बात समझते थे कि खलनायक बनना आसान नहीं है, ऐसे में उनकी मेहनत भी अलग ही स्तर की रहती थी. वे हर किरदार में अपनी जान फूंक देते थे. यही वजह रही कि उनके करियर में ‘आजाद’, ‘मधुमती’, ‘देवदास’, ‘दिल दिया दर्द लिया’, ‘राम और श्याम’, ‘आदमी’, ‘मुनीमजी’, ‘अमरदीप’, ‘जॉनी मेरा नाम’, ‘वारदात’ जैसी कई फिल्में शामिल हुईं. इन सभी फिल्मों में प्राण ने खलनायक बन खौफजदा किया था.

अमिताभ के करियर को दी दिशा

वैसे ये बात भी कम ही लोग जानते होंगे कि अमिताभ बच्चन के करियर को पटरी पर लाने का काम भी प्राण ने ही किया था. जंजीर फिल्म में अमिताभ ने बेहतरीन काम किया, ये सभी जानते हैं. लेकिन उनकी झोली में ये फिल्म डालने का काम प्राण ने किया. उन्होंने ही मेकर्स को उस फिल्म के लिए अमिताभ का नाम सुझाया था. उसी फिल्म में प्राण के ऊपर भी यारी है ईमान मेरा गाना फिल्माया गया था.

प्राण को अपने हिंदी सिनेमा में अपने यादगार योगदान के लिए 2001 में भारत सरकार द्वारा पद्म भूषण से सम्मानित किया था. वहीं 12 साल बाद उन्हें फिल्म जगत के सर्वोच्च सम्मान दादा साहेब फाल्के अवॉर्ड से भी नवाजा गया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here