Home Lifestyle पोर्न स्टार को एचआईवी एड्स क्यों नहीं होता, आइए जानें इसके पीछे...

पोर्न स्टार को एचआईवी एड्स क्यों नहीं होता, आइए जानें इसके पीछे की वजह…l

आज के समय में कई लोग ऐसे हैं जिनके दिमाग में यह बात आती है कि पॉर्न स्टार्स HIV से खुद को कैसे सुरक्षित रखते हैं। HIV एक ऐसी बीमारी है जिसका आज तक कोई उपचार नहीं निकल पाया है। यही कारण है कि आम जनता के मुकाबले पॉर्न स्टार्स HIV को लेकर ज़्यादा जागरुक और सतर्क रहते हैं। वह खुद को HIV से बचाने के लिए कई तरीके भी अपनाते हैं क्योंकि उनमें यह बीमारी होने की संभावना अधिक होती है। आमतौर पर HIV एक से अधिक व्यक्ति के साथ यौन संबंध बनाने से होता है और पॉर्न स्टार्स चाह कर भी इस चीज से खुद को नहीं बचा सकते हैं। ऐसे में खुद ही इसका बचाव करना पड़ता है। साल 1980 के दौरान पॉर्न की दुनिया के कई स्टार्स HIV-AIDS के कारण मरे थे। इस घटना के बाद पॉर्न इंडस्ट्री के लोगों के लिए एक नियम बनाया गया था और बहुत से गाइडलाइन्स भी जारी कर दिए गए थे। इन गाइडलाइन्स को बनाने के बाद पॉर्न स्टार्स इस जानलेवा बीमारी से बच सकते हैं। इस गाइडलाइन्स में था कि हर एक पॉर्न स्टार्स की जांच महीने में दो बार की जाएगी। इसके अलावा हर एक नए या पुराने पॉर्न स्टार्स की HIV की जांच करवाई जाती है। यदि जांच के बाद किसी भी एक्टर में कुछ डाउट लगता है तो उसे शूटिंग की इजाजत नहीं दी जाती है। उनका अच्छी तरह मेडिकल ट्र्रीटमेंट करवाया जाता है। जितना एक आम इंसान इस बारे में जागरूक या सतर्क रहता है, उससे अधिक पॉर्न स्टार्स होते हैं क्योंकि उनका प्रोफेशन भी इस बात से जुड़ा हुआ होता है। अमेरिका की एक वेबसाइट के मुताबित करीब 13 हजार से अधिक पॉर्न फिल्में बनती हैं जिससे पॉर्न इंडस्ट्री को करीबन 13 बिलियन से भी अधिक की आमदनी होती है। ऐसा कहा जाता है कि फुटबॉल, बास्केट बॉल और बेसबॉल जैसे बड़े खेलों से भी ज्यादा कमाई एक पॉर्न इंडस्ट्री की होती है। पॉर्न फिल्में कई देशों में बैन है। यदि किसी भी इंसान को पॉर्न देखते देखा जाता है जो उसे सजा दी जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here