Home Ajab Gajab चाणक्य नीति के अनुसार इन कामों को करने से मां सरस्वती का...

चाणक्य नीति के अनुसार इन कामों को करने से मां सरस्वती का नहीं मिलता है आशीर्वाद

चाणक्य निति के अनुसार मां सरस्वती जी कृपा जीवन में बहुत आवश्यक होती है। अगर जीवन में मां सरस्वती जी की कृपा होती है तो जीवन में सब काम अच्छे और जीवन सुखी होता है। चाणक्य निति के अनुसार कुछ आदतों के कारण माँ सरस्वती जी की कृपा हम पर नहीं रहती। तो आइए जानते है चाणक्य निति के अनुसार जानते है कौन से है वो काम।

आलस से दूर रहें

चाणक्य के अनुसार आलसी व्यक्ति के जीवन में सफलता मुश्किल से आती है. क्योंकि आलसी व्यक्ति लाभ और प्रगति के अवसरों को आलस के कारण गवां देता है. जब उसके संगी साथी उससे आगे निकल जाते हैं तो उसे दुख और पीड़ा होती है. इसलिए जीवन में ऐसी स्थिति न आए इसके लिए आलस का त्याग करना ही बेहतर है. ज्ञान का उपयोग लोगों की भलाई के लिए करें

ज्ञान का प्रयोग सदैव ही मानवता की भलाई के लिए करना चाहिए. ज्ञान को आत्मसात करना चाहिए. ज्ञान का कभी भी दिखावा नहीं करना चाहिए. ज्ञान का दिखावा करने वालों को सरस्वती जी अपना आर्शीवाद नहीं देती हैं. ज्ञान का प्रयोग लोगों के जीवन को उत्तम बनाने के लिए करना चाहिए. जो लोग ऐसा करते हैं उन्हें मान सम्मान प्राप्त होता है.

स्वच्छता को अपनाएं, गंदगी से दूर रहें

सरस्वती जी और मां लक्ष्मी को स्वच्छता अधिक प्रिय है. स्वच्छता को अपनाने वाले व्यक्ति कुशल और आत्मविश्वासी होते हैं. ऐसे लोगों से सरस्वती और लक्ष्मी जी बहुत प्रसन्न होती हैं और अपना आर्शीवाद भी प्रदान करती है. ऐसे लोगों के पास ज्ञान और धन की कोई कमी नहीं रहती है. गंदगी से दूर रहना चाहिए क्योंकि ये कई प्रकार के रोगों को भी जन्म देती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here