Home Ajab Gajab कभी नहीं देखा होगा ऐसा शादी का कार्ड, एक पिता ने बेटी...

कभी नहीं देखा होगा ऐसा शादी का कार्ड, एक पिता ने बेटी की शादी के कार्ड पर छापा डाला कुछ ऐसा…

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

शादी का कार्ड बहुत निजी होता है और इसमें लोग दुल्हा-दुल्हन के परिचय के साथ व्यक्तिगत जानकारियां ही साझा करते हैं पर हाल ही में यूपी में एक ऐसा शादी का कार्ड छपा है जिसमें कुछ ऐसा लिखा है जो आजकल चर्चा का विषय बन गया है। दरअसल इस कार्ड में शादी से सम्बंधित जानकारियों के साथ एक सामाजिक संदेश भी लिखा गया है। ऐसे में अब ये कार्ड सुर्खियों में छा गया है। चलिए आपको बताते हैं कि आखिर इस कार्ड में लिखा क्या है। वैसे आजकल शादियों में कुछ अलग हटकर करने का चलन चल पड़ा है। लोग डेस्टिनेशन वेडिंग से लेकर, शादी के ड्रेस और तरीके को लेकर बहुत से नए इस्तेमाल कर रहे हैं पर यूपी में शादी के कार्ड को लेकर कुछ ऐसा किया गया है जो समाज के लिए एक नजीर बन गया ।

एक पिता ने बेटी की शादी के कार्ड पर शादी की आवश्यक जानकारी साझा करने के साथ एक सामाजिक संदेश भी लिखा है। कन्नौज के तालग्राम के इस किसान पिता ने बेटी की शादी के निमंत्रण पत्र में सामाजिक संदेश लिखवाया है। शराब पीना सख्त मना है। ऐसे में उनके इस कदम की चारों ओर प्रशंषा हो रही है। एक पिता के फर्ज के साथ इस किसान ने जो सामाजिक दायित्व निभाने की कोशिश की है उससे सभी लोग उसकी तारीफे कर रहे हैं। इस प्रकार वो पूरे क्षेत्र में चर्चा का विषय बन गया है।

कन्नौज के तालग्राम के अवधेश चंद्र का कहना है कि उन्होने अपनी बेटी की शादी में कार्ड पर ऐसा इसलिए लिखवाया है कि क्योंकि अक्सर नशे में लोग शादी के कार्यक्रम में अपनी मर्यादा भूल बवाल करने लगते हैं। ऐसे में शादी के कार्यक्रम में रंग में भंग हो जाता है। ऐसे में अवधेश चंद्र ने बेटी की शादी में बुलावा पत्र के साथ शराब न पीने की हिदायत दे दी है।

ऐसे में सभी लोग अवधेश चंद्र के इस कदम की तारीफ कर रहे हैं और माना जा रहा है कि अगर ऐसा ही दूसरे लोग करते हैं तो नशे पर अंकुश लग सकता है। जबकि खुद ही लोग शादी में शराब और दूसरी नशीली चीजों का प्रबंध करते हैं। ज्यादातर शादी समारोह में कॉकटेल पार्टी और अलग से नशीले पदार्थों का इंतजाम किया जाता है। ऐसे में इससे शराब के सेवन को बढ़ावा मिलता है। वहीं अवधेश चंद्र ने शादी के कार्ड पर इसके लिए चेतावनी लिखकर अलग नजीर पेश करने की कोशिश की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here