Home Ajab Gajab सौरमंडल के पांच सबसे ठंडे ग्रह

सौरमंडल के पांच सबसे ठंडे ग्रह

सौर मंडल में सूर्य और वह खगोलीय पिंड सम्मलित हैं, जो इस मंडल में एक दूसरे से गुरुत्वाकर्षण बल द्वारा बंधे हैं। किसी तारे के इर्द गिर्द परिक्रमा करते हुई उन खगोलीय वस्तुओं के समूह को ग्रहीय मण्डल कहा जाता है जो अन्य तारे न हों, जैसे की ग्रह, बौने ग्रह, प्राकृतिक उपग्रह, क्षुद्रग्रह, उल्का, धूमकेतु और खगोलीय धूल। हमारे सूरज और उसके ग्रहीय मण्डल को मिलाकर हमारा सौर मण्डल बनता है।
दोस्तों! आज हम आपको सौरमंडल के पांच सबसे ठंडे ग्रहों के बारे में बताने वाले हैं। ध्यान रहे कि खगोल विज्ञान में अब 9 नहीं केवल 8 ग्रह ही माने जाते हैं, इसलिए यहां प्लूटो (यम) ग्रह की जानकारी नहीं दी जाएगी। आइए अब शुरू करें-
5.मगंल
मंगल ग्रह हमारे सौरमंडल का पांचवां सबसे ठंडा ग्रह है। इस ग्रह का औसत तापमान -65 डिग्री सेल्सियस रहता है।
4.बृहस्पति
सौरमंडल के इस सबसे बड़े ग्रह का औसत तापमान -110 डिग्री सेल्सियस रहता है। यह हमारे सौरमंडल का का चौथा सबसे ठंडा ग्रह है।
3.शनि
सर्वाधिक चंद्रमा वाले इस ग्रह का औसत तापमान -140 डिग्री सेल्सियस रहता है। आकार में यह सौरमंडल का दूसरा सबसे बड़ा ग्रह है।
2.अरुण
इसे अंग्रेज़ी में यूरेनस कहा जाता है। यह सूर्य से सातवां सबसे दूर स्थित ग्रह है, इसका औसत तापमान -195 डिग्री सेल्सियस रहता है।
1.वरुण
वरुण ग्रह को नेपच्यून भी कहते हैं। प्लूटो को सौरमंडल से बाहर मानने के बाद इसे ही सौरमंडल का सबसे आखिरी माना जाता है। वरुण का औसत तापमान -200 डिग्री सेल्सियस रहता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here