Home Latest News सीएम खट्टर ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में जापानी भाषा के सर्टिफिकेट एंड डिप्लोमा...

सीएम खट्टर ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में जापानी भाषा के सर्टिफिकेट एंड डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लेने की अपनी इच्छा जाहिर की….

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जल्द ही कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी के छात्र बनने वाले हैं. सीएम खट्टर ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में जापानी भाषा के सर्टिफिकेट एंड डिप्लोमा कोर्स में दाखिला लेने की अपनी इच्छा जाहिर की है और इस कोर्स में दाखिला लेने वाले वह पहले छात्र होंगे. इसके साथ ही CM खट्टर ने विश्वविद्यालय में नई शिक्षा नीति के तहत् केजी-टू-पीजी स्कीम को भी लांच किया. इसके साथ ही उन्होंने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय में नए शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए चलाए जाने वाले जापानी भाषा के सर्टिफिकेट एंड डिप्लोमा कोर्स, बीबीए आनर्स तथा एमटैक डिफेंस टेक्नोलॉजी कोर्स को लांच किया. आजादी के अमृत महोत्सव के लिए जिंगल को लांच किया.
सीएम गुरुवार को कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के एल्युमनी एसोसिएशन के कार्यक्रम में शामिल हुए थे. कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के एल्युमनी एसोसिएशन द्वारा आयोजित ऑनलाइन/ऑफलाइन एल्युमनी मीट प्रतिस्मृति, पूर्व छात्र पुनर्मिलन 2021 कार्यक्रम में सीएम खट्टर जुड़े और इस दौरान एक खास बात सामने आई है. वो परिवार में पहले इंसान थे जिन्होंने 10वीं के बाद भी अपनी शिक्षा को जारी रखा. सीएम मनोहर लाल खट्टर कभी भी राजनीति में नहीं आना चाहते थे. वो हमेशा से डॉक्टर बनना चाहते थे. लेकिन, पारिवारिक परिस्थितियों की वजह से उनका यह सपना पूरा नहीं हो पाया. किसान परिवार से तालुक रखने वाले सीएम खट्टर पिता के साथ की वजह से रोहतक के नेकीराम शर्मा राजकीय महाविद्यालय में दाखिला लेने में सफल हो गए.
डॉक्टर बनने के लिए दिल्ली गए थे सीएम खट्टर
CM खट्टर मेडिकल कॉलेज में प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिए दिल्ली गए थे. लेकिन, खराब परिस्थितियों के चलते इस मंजिल तक पहुंचने में असफल रहे. इसके बाद दिल्ली के सदर बाजार में कपड़े की दुकान, संघ की पाठशाला और साथ में दिल्ली यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन और संघ की गतिविधियों से हरियाणा के मुख्यमंत्री के पद तक का सफर काफी मुश्किलों भरा रहा. बता दें कि ये पहली बार होगा, जब हरियाणा का कोई मुख्यमंत्री कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी का छात्र बनेगा. हरियाणा के सीएम से पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के पास यूनिवर्सिटी की डिग्री है. सीएम केजरीवाल ने अपने छात्र जीवन में प्री-इंजीनियरिंग में केयू के 1984-1985 में टॉप-7 की सूची में स्थान बनाया था.
पूर्व छात्रों ने दिया एल्यूमनी एसोसिएशन के लिए अनुदान
कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र टैक्सास यूएसए से अमिताभ गुप्ता ने कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के हिन्दी विभाग के लिए 15 लाख रुपये, डॉ. वीएन अत्री ने 10 लाख, विधायक सुभाष सुधा ने 5 लाख, नई दिल्ली से वीना मिश्रा ने 6 लाख, मालदीव से करण यादव ने गुरू दक्षिणा के रूप में 2 लाख, आरकेएसडी कालेज में कार्यरत शिक्षिका डॉ. शिल्पा अग्रवाल ने 1 लाख रुपये देने की घोषणा की.

Previous articleखुसरूपुर स्टेशन के पूर्वी केबिन के समीप हावड़ा पटना जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन से कटकर तीन लोगों की घटनास्थल पर ही मौत
Next articleउत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह का लंबी बीमारी के बाद शनिवार देर शाम निधन हो गया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here