लखीमपुर खीरी जा रही पूर्व भाजपा सांसद सावित्रीबाई फुले को पुलिस ने बड़ी अभद्रता के साथ गाड़ी में बैठाया और गिरफ्तार कर लिया। लखीमपुर खीरी घटना  कांड में लगभग सभी पार्टियां मृतक परिवारों के साथ संवेदनाएं व्यक्त करना चाहती हैं। किंतु किसी भी पार्टी को लखीमपुर खीरी जाने नहीं दिया जा रहा है। इसी कड़ी में पूर्व भाजपा सांसद सावित्रीबाई भी लखीमपुर जाना चाहती थी। 

सावित्रीबाई फुले के साथ पुलिस की अभद्रता का वीडियो हुआ वायरल

इसी वक्त पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया और उनके साथ मारपीट की। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल हो रहा है। आपको बता दें कि 2012 में बहराइच के बलहा से बीजेपी एमएलए बनी थी। सावित्रीबाई इसके बाद 2014 में भारतीय जनता पार्टी की ही टिकट से सांसद चुनी गई। 
भारतीय जनता पार्टी के रवैया को देखते हुए सावित्रीबाई ने 2018 में भारतीय जनता पार्टी को छोड़ दिया और अपनी खुद की पार्टी बना ली। वर्तमान समय में सावित्रीबाई फुले अपनी पार्टी कांशीराम बहुजन समाज पार्टी के नाम से बना चुकी हैं। और अपनी पार्टी के सहारे ही उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ने के लिए कमर कस चुकी हैं।
 बहुजनों की काफी हितैषी माने जाने वाली सावित्रीबाई फुले ने उस समय भारतीय जनता पार्टी को छोड़ दिया था। जब उन्हें ऐसा लगा कि भारतीय जनता पार्टी समाज को बांटने का काम कर रही है। इसके बाद उन्होंने अपनी खुद की पार्टी बना ली। कल जब वह लखीमपुर खीरी में हुई किसानों की हत्या और पीड़ितों से मिलने जा रही थी उस समय पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया और उनके साथ काफी अभद्रता भी की। 
हालांकि यह कदापि उचित नहीं है। ऐसा किसी महिला के साथ नहीं करना चाहिए जबकि सावित्रीबाई फूले एक महान नेत्री हैं। सावित्रीबाई फुले की गिरफ्तारी का वीडियो काफी तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। ट्विटर पर प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी सावित्रीबाई फुले के साथ हुई इस घटना को बहुत ही दुखद बताया। उन्होंने लिखा सावित्रीबाई फुले तुम्हारे साथ इस तरह के व्यवहार देख कर दुख हुआ लड़ती रहो और डटी रहो।
Share.

Leave A Reply

error: Content is protected !!