Home Latest News यूपी में कोरोना वैक्सीन की कमी से टीकाकरण महाअभियान को धक्का लग...

यूपी में कोरोना वैक्सीन की कमी से टीकाकरण महाअभियान को धक्का लग रहा

यूपी में कोरोना वैक्सीन की कमी से टीकाकरण महाअभियान को धक्का लग रहा है। मंगलवार को वैक्सीन की कमी से वाराणसी से लेकर लखनऊ तक दर्जनों केंद्र बंद रहे। नोएडा में भी केंद्रों के बाहर टीकाकरण नहीं होने की तख्ती लटका दी गई।
राजधानी लखनऊ में स्वास्थ्य विभाग टीकाकरण की बदइंतजामी दूर कर पाने में नाकाम साबित हो रहा है। स्वास्थ्य विभाग ने चुपचाप टीकाकरण केंद्र घटा दिए। करीब 145 केंद्र बंद कर दिए गए। बिना सूचना टीकाकरण केंद्र बंद होने से लोगों को खासी दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। बताया जा रहा है कि वैक्सीन खत्म होने के चलते ही टीकाकरण केंद्र बंद कर दिए गए हैं।
दो दिन पहले 263 केंद्रों पर टीकाकरण हुआ। इसके बाद अचानक 118 केंद्रों पर ही टीकाकरण हुआ। करीब 145 केंद्रों पर टीकाकरण बंद कर दिया गया। नतीजतन टीकाकरण के लिए लोग मौके पर पहुंचे तो केंद्रों पर ताला लटकता मिला। भीड़ नजदीक के दूसरे केंद्र पर पहुंची। भीड़ अधिक होने से अफरा-तफरी मच गई। वैक्सीन खत्म हो गई। काफी लोग बिना टीका लगवाए वापस लौट गए। अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. एमके सिंह के मुताबिक सभी लोगों को टीका लगाने का प्रयास किया जा रहा है। पर्याप्त वैक्सीन है। कुछ केंद्र बंद किए गए हैं। जरूरत के हिसाब से फिर से चालू किए जाएंगे।
वाराणसी में केवल 29 केंद्रों पर टीकाकरण
वाराणसी में वैक्सीन की किल्लत के कारण वैक्सिनेशन के महाअभियान पर ब्रेक लग गया है। मंगलवार को जिले में सिर्फ 29 केंद्रों पर ही वैक्सीन लगाई गई। इनमें से ज्यादातर केंद्रों पर सिर्फ सेकेंड डोज ही लग रही है। इसके अलावा अभिभावक स्पेशल और वर्कप्लेस स्पेशल बूथ भी मंगलवार को बंद रहे।
सीएमओ ऑफिस की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक, सोमवार को वाराणसी में 112 केंद्रों पर 19 हजार से अधिक लोगों को कोरोना का टीका लगाया है, लेकिन मंगलवार को वैक्सीन की किल्लत के कारण सिर्फ 29 केंद्र ही बनाए गए। 29 में से 11 केंद्रों पर पहली और 18 केंद्रों पर सेकेंड डोज लगाई गई। जिन 18 केंद्रों पर सेकेंड डोज लगाई गई, वहां भी वैक्सीन सीमित मात्रा में उपलब्ध कराई गई थी। बुधवार को टीकाकरण पूरी तरह बंद रहेगा।
नोएडाः 60 से अधिक केंद्रों पर भटकते रहे लोग
नोएडा में सरकारी टीकाकरण केंद्रों में मंगलवार को कोविशील्ड टीके न होने से जिला अस्पताल सहित 60 से अधिक केंद्रों पर लोग भटकते रहे। इस दौरान कई जगह लोगों ने हंगामा भी किया। टीके की कमी के कारण बुधवार को होने वाले टीकाकरण को भी टाल दिया गया है। अब पहली जुलाई से ही टीकाकरण होगा।
जिला अस्पताल, शिशु अस्पताल, भंगेल सीएचसी सहित सभी सरकारी टीकाकरण केंद्रों पर सुबह आठ बजे से ही टीकाकरण के लिए लोग इकट्ठा होने लगे थे। जिला अस्पताल सहित सभी केंद्रों में टीकाकरण स्थगति होने की सूचना चस्पा कर दी गई थी, लेकिन लोगों की संख्या लगातार बढ़ रही थी। सिर्फ जिला अस्पताल में ही करीब डेढ़ हजार लोग टीके के लिए इकट्ठा हो गए थे। वहीं जिले के अन्य सभी केंद्रों में पांच हजार से अधिक लोग टीका लेने आए थे, जिन्हें वापस लौटना पड़ा। सोमवार को टीके की 9000 खुराक बची थी, जो खत्म हो गई।

Previous article1 जुलाई से एसबीआई के ग्राहकों के लिए बदल रहे हैं ये नियम, आइए जाने
Next articleबिहार की सरकार ने जारी किया आदेश कोरोना से मौत पर परिवार को मिलेंगे इतने लाख रुपए, आइए जाने

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here