Home Latest News मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर गृह विभाग ने इस इंस्टीट्यूट की...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर गृह विभाग ने इस इंस्टीट्यूट की स्थापना का प्रस्ताव तैयार किया

गृह मंत्री अमित शाह रविवार को लखनऊ की तहसील सरोजनीनगर की 50 एकड़ भूमि पर प्रस्तावित यूपी स्‍टेट फॉरेंसिक साइंस इंस्टीट्यूट का शिलान्यास करेंगे। यह इंस्‍टीट्यूट अपराधों की वैज्ञानिक तरीके से जांच के क्षेत्र में आधुनिक सुविधाओं और प्रौद्योगिकी उत्‍कृष्‍ट केन्‍द्र होगा। इससे जटिल अपराधों की जांच में भी आसानी होगी। इसके साथ ही गृहमंत्री रविवार को वाराणसी और मिर्जापुर भी जाएंगे।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर गृह विभाग ने इस इंस्टीट्यूट की स्थापना का प्रस्ताव तैयार किया। पुलिसिंग के विभिन्‍न नए आयाम स्‍थापित करने के उद्देश्य से यह इंस्‍टीट्यूट अध्‍ययन के साथ शोध एवं प्रशिक्षण में भी काम करेगा। राज्य सरकार की कोशिश है कि यह रिसोर्स सेंटर के रूप में भी काम करे। इंस्‍टीट्यूट प्रदेश के युवाओं को शिक्षा व रोजगार के बेहतर अवसर भी उपलब्‍ध कराएगा। इस इंस्‍टीट्यूट में विज्ञान व आईटी वर्ग के छात्र विभिन्‍न विषयों में कोर्स कर सकेंगे, जहां विशेषज्ञों द्वारा उनको फारेंसिक साइंस व डीएनएन आदि के बारे में पढ़ाया जाएगा। इसके निदेशक के रूप में एडीजी रैंक व अन्‍य अधिकारियों की नियुक्ति की जाएगी।
पांच एकड़ में बनेगा सेंटर फॉर एक्‍सीलेंस
इंस्‍टीट्यूट में सबसे खास बात यह होगी कि यहां पर गुजरात के गांधीनगर स्थित राष्ट्रीय न्यायालय विज्ञान विश्वविद्यालय (एनएफएसयू) के सहयोग से सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर डीएनए की स्थापना पांच एकड़ में की जाएगी।
गृहमंत्री और सीएम आज मिर्जापुर और वाराणसी में
गृहमंत्री अमित शाह रविवार को मिर्जापुर में विंध्य कॉरिडोर के शिलान्यास और रोप-वे के लोकार्पण करने के बाद काशी विश्वनाथ धाम भी आएंगे। वाराणसी में अपने आधे घंटे के कार्यक्रम में बाबा विश्वनाथ के दर्शन पूजन करने के बाद कॉरिडोर का अवलोकन करेंगे। गृहमंत्री के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे। लखनऊ से गृहमंत्री अमित शाह और सीएम योगी आदित्यनाथ रविवार दोपहर 2.40 बजे मिर्जापुर के देवरी हेलीपैड पहुंचेंगे। देवरी से 3.10 बजे विंध्याचल पहुंचेंगे और मां विंध्यवासिनी के दर्शन पूजन करने के बाद विंध्य कारिडोर का शिलान्यास व रोप-वे का लोकार्पण करेंगे। इसके बाद महुअरिया के जीआईसी में जनसभा को संबोधित करेंगे। जनसभा के बाद गृहमंत्री और मुख्यमंत्री वाराणसी जाएंगे। इस बीच गृहमंत्री का विश्वनाथ मंदिर का दौरा तय होने के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने तैयारी शुरू कर दी।
1.28 अरब की लागत से बनेगा विंध्य कॉरिडोर
एक अरब 28 करोड़ की लागत से विंध्य कॉरिडोर तैयार होगा। इसमें मंदिर के चारों तरफ 50 मीटर चौड़ा परिक्रमा पथ, विंध्यधाम की सड़कों के चौड़ीकरण के अलावा अष्टभुजा एवं काली खोह की सड़कों का भी चौड़ीकरण कराया जाएगा। साथ ही गंगा घाटों का सौंदर्यकरण भी प्रस्तावित है।

Previous articleराज्य के हर गांव में खेल का मैदान हो और ओपेन जिम हो, इसी को ध्यान में रख हुए इनका निर्माण कराया जा रहा
Next articleसमाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि भाजपा कैसा भारत बनाना चाहती….

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here