Home Latest News मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को 13 राजकीय कॉलेजो के भवनों के...

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को 13 राजकीय कॉलेजो के भवनों के लोकार्पण और शिलान्यास की सौगात दी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बुधवार को 13 राजकीय कॉलेजों के भवनों के लोकार्पण और शिलान्यास की सौगात दी. गहलोत ने वीसी के जरिए 11 कॉलेजों के नवनिर्मित भवनों का लोकार्पण और 2 कॉलजों के भवनों का शिलान्यास किया. इन पर 5745.19 लाख रुपए की लागत आएगी. इस दौरान मुख्यमंत्री ने कोरोना की तीसरी लहर का जिक्र किया और पर्यटन स्थलों पर लापरवाही करने वाले लोगों को सचेत किया. में उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी, यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल सहित कई विधायक भी जुड़े.
मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि ‘हमारा फोकस राजस्थान को बचाना है. छूट देने के बाद फिर भीड़ इकट्ठी होने लगी है. पर्यटन स्थल पर भीड़ चिंता का विषय है. विशेषज्ञों ने कहा कि ये हालात रहे तो तीसरी लहर को हम ही बुलाएंगे वह खुद आएगी नहीं.’ उन्होंने कहा कि ‘उच्च शिक्षा विभाग को भी अभियान चलाना चाहिए क्योंकि अभी सभी को कोविड से बचाना अहम है.’
मुख्यमंत्री ने कहा ‘अब जमाना बदल गया है. ‘अब जात—पात से मीटिंग करके आगे नहीं बढ़ा जाएगा. अब तो जाति, धर्म से ऊपर उठकर ही आगे बढ़ा जा सकता है. बिना शिक्षा के समाज आगे नहीं बढ़ सकता. ‘ब्यूरोक्रेसी व नेता की जिम्मेदारी है कि समाज में शिक्षा का विकास कराए.
शिक्षा से ही होगा विकास
मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने शिक्षा के क्षेत्र में कमी नहीं रखी. जब मैं पहली बार मुख्यमंत्री बना था, तब मैंने देखा कि हम शिक्षा में बहुत पिछड़े हैं. लेकिन आज वह स्थिति प्रदेश में नहीं है. आज हम शिक्षा के क्षेत्र में बहुत आगे हैं. हमने इस बार 123 कॉलेज खोलने का फैसला किया. विधायक ने जहां कॉलेज मांगा, वहां कॉलेज दिए. जहां 500 लड़कियां पढ़ रही होंगी.
कोचिंग खोलने का फैसला भी जल्द
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि कोटा के कोचिंग संस्थाओं को खोलने पर जल्द निर्णय लिया जाएगा. शिक्षा के क्षेत्र में कमी नहीं रखी जाएगी.

Previous articleचीन टोक्यो ओलंपिक के लिए 431 खिलाड़ियों सहित 777 सदस्यीय दल भेजेगा
Next articleक्राइम ब्रांच और काकादेव पुलिस ने नवीन नगर में एक साल से अंतरराष्ट्रीय कॉल सेंटर के नाम पर चल रहे ठगी के बड़े नेटवर्क का भंडाफोड़ किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here