Home Latest News पुलिस के डर से आरएसएस खंड संचालक के पुत्र ने खेत में...

पुलिस के डर से आरएसएस खंड संचालक के पुत्र ने खेत में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली

रंछाड़ गांव में सोमवार शाम पुलिस के डर से आरएसएस खंड संचालक के पुत्र ने खेत में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस का घेराव करते हुए जमकर हंगामा किया और घंटों तक पुलिस को शव नहीं उठाने दिया। ग्रामीण आरोपी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग पर अड़े थे।
जानकारी के अनुसार रंछाड़ गांव में रविवार को कोरोना टीकाकरण के लिए स्वास्थ्य विभाग ने कैंप लगाया था। टीका लगवाने आई भीड़ में से कुछ युवकों का पुलिस कर्मियों से विवाद हो गया था। आरोप है कि युवकों ने पुलिसकर्मियों से हाथापाई तक कर दी थी। हंगामा बढ़ने पर आरोपी युवक वहां से फरार हो गए। इसी मामले में सोमवार शाम पुलिस ने एक आरोपी अक्षयÜ(22) पुत्र रामनिवास के घर दबिश दी। आरोपी अक्षय के पिता रामनिवास आरएसएस के बिनौली खण्ड संचालक भी हैं। दबिश के दौरान पुलिस के हाथ अक्षय नहीं लगा तो पुलिस ने अक्षय की मां और ताई को हिरासत में ले लिया।
आरोप है कि पुलिस ने उनके घर में तोड़फोड़ भी की और उनका ट्रैक्टर अपने साथ ले गई। ग्रामीणों मानें तो गिफ्तारी के डर से अक्षय ने अपने खेत में जाकर पेड़ पर फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। इसकी जानकारी होते ही परिजनों के साथ काफी संख्या में ग्रामीण भी मौके पर पहुंचे। जहां खेते में नलकूप से कुछ दूरी पर नीम के पेड़ पर अक्षय का शव लटका हुआ था। इसे देखकर ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया और उन्होंने पुलिस का घेराव करते हुए हंगामा शुरू कर दिया। गुस्याए लोगों ने पुलिस को शव नहीं उठाने दिया। परिजनों ने आरोप लगाया कि पुलिस ने अक्षय की पिटाई की इस बात से आहत होकर उसने आत्महत्या की।
सीओ आलोक सिहं ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया लेकिन ग्रामीण नहीं मानें। करीब चार घंटे से अक्षय का शव खेत में पड़ा रहा, लेकिन पुलिस शव को उठाने की हिम्मत नहीं जुटा सकी। ग्रामीणों ने कहा कि जब तक दोषी पुलिस कर्मियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं होती, तब तक शव को उठाने नहीं दिया जाएगा। खबर लिखे जाने तक शव खेत में ही पड़ा था और पुलिस ग्रामीणों को मनाने के प्रयास में जुटी थी।
एसपी बागपत अभिषेक सिंह के अनुसार रंछाड़ के जिस युवक ने आत्महत्या की है, वह एक वैक्सीनेशन कैंप के दौरान पुलिस से हाथापाई और मारपीट का आरोपी था। मामले में बिनौली थाने में मुकदमा दर्ज कराया है, जिसमें वह फरार चल रहा था। युवक द्वारा आत्महत्या की गई है, इस मामले में जो भी शिकायत आती है, उसके आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

Previous articleकेंद्रीय जीएसटी विभाग ने छापेमारी कर 115 करोड़ के कागजी कारोबार का खुलासा किया
Next articleजवान बेटी को पिता ने तमंचे से गोली मारकर हत्या कर दी, जानिए वजह

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here