Home Health Tips पीरियड्स में होने वाले दर्द और ऐंठन से परेशान हैं तो भांग...

पीरियड्स में होने वाले दर्द और ऐंठन से परेशान हैं तो भांग के बीज के तेल का उपयोग करें

क्‍या आपको पीरियड्स के दौरान बहुत ज्‍यादा दर्द होता है? क्‍या दर्द के साथ-साथ ऐंठन भी महसूस होती है? क्‍या आप इससे बचने के उपायों की खोज कर रही हैं? तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं क्‍योंकि आप इस आर्टिकल में बताए नेचुरल टिप्‍स की मदद से पीरियड्स से होने वाली ऐंठन से आसानी से छुटकारा पा सकती हैं और इसका नाम भांग के बीज का तेल है। आपको लग रहा होगा कि कैसी बातें कर रहे हैं क्‍योंकि भांग तो एक नशीला पदार्थ है। जी हां हालांकि कुछ लोग इसके नाम से घबरा जाते हैं। लेकिन हम आपको बता दें कि भांग के तेल का इस्‍तेमाल एक औषधि के रूप में काफी पुराने समय से इस्तेमाल किया जाता रहा है। पहले पीरियड से लेकर मेनोपॉज तक एक महिला को बहुत सी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इस दौरान उनको मूड स्विंग्‍स के साथ शारीरिक और हार्मोनल बदलाव का सामना करना पड़ता है। इन परिवर्तनों के बीच एक चीज जो बहुत सी महिलाओं में बेहद आम है और स्थिर रहती है, वह पीरियड्स में होने वाली ऐंठन है। जी हां पीरियड्स के कुछ दिन कई महिलाओं के लिए बहुत तकलीफदेह होते हैं और उन्‍हें बहुत ज्‍यादा दर्द और ऐंठन महसूस होती है। किसी भी महिला के लिए पीरियड्स की ऐंठन से लड़ना कभी भी आसान नहीं रहा। लेकिन इस दर्द से आप नेचुरल ऑयल की मदद से आसानी से निपट सकती हैं। भांग के तेल का इस्‍तेमाल आप कैसे कर सकती हैं और यह कैसे काम करता है? इस बारे में हमें हेम्पस्ट्रोल की संस्थापक सुश्री दीपिका जी बता रही हैं। दीपिका शर्मा जी का कहना हैं कि ”दुनिया भर में लगभग 20 से 90% महिलाएं रिप्रोडक्टिव उम्र में डिसमिनोरिया से परेशान रहती हैं। पीरियड्स में ऐंठन का दर्द मुख्य रूप से पेट के निचले हिस्‍से और पेल्विस में हल्के से लेकर गंभीर तक हो सकता है। यह दर्द कई महिलाओं में थाइज और पीठ के निचले हिस्से तक फैल सकता है। पीरियड्स में ऐंठन हल्के से गंभीर तक हो सकती है। जब ये ऐंठन रोजाना के कामों में बाधा उत्‍पन्न करती है तो एक महिला के लिए अपने पीरियड्स से निपटना मुश्किल हो जाता है। कभी-कभी, पीरियड्स की ऐंठन इतनी गंभीर हो सकती है कि महिलाओं को मूवमेंट करने में भी परेशानी होती हैं। लेकिन परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि बहुत सारे नेचुरल पेन किलर हैं, जिन्हें तलाशने की आवश्यकता है। यह पीरियड्स में ऐंठन को दूर करने में मदद कर सकते हैं। ऐसा ही एक नेचुरल समाधान भांग के तेल में निहित है।”

इस तेल को लैवेंडर ऑयल के साथ मिक्‍स करके लगाने से आप पीरियड्स में होने वाली ऐंठन से बच सकती हैं। आइए जानें कि कैसे यह तेल दर्दनाक पीरियड्स से बचाने के लिए एक महिला की मदद कर सकता है। इसमें लैवेंडर तेल की उपस्थिति के कारण यह खराब मूड, शारीरिक ऐंठन के साथ चिड़चिड़ापन को कम कर सकता है। साथ ही भांग के बीज का तेल ओमेगा 3 और 6, मैग्नीशियम, गामा-लिनोलेनिक एसिड (जीएलए) का वहन करता है। अपने निचले पेट, पीठ या चेस्‍ट एरिया पर इस तेल की एक सौम्य मालिश करने से यह इन यौगिकों को छोड़ती है जो आसानी से त्वचा में अवशोषित हो जाते हैं। जब अन्य यौगिकों के साथ आवश्यक फैटी एसिड त्वचा में अवशोषित हो जाते हैं तो वह प्रोस्टाग्लैंडिंस के उत्पादन को बढ़ावा देती हैं जो पीरियड्स के दौरान ऐंठन पैदा किए बिना यूट्रस को अनुबंधित करने में मदद करते हैं।

Previous articleअगर आप भी अधिक हस्तमैथुन करते हैं तो इन बीमारियों के हो सकते हैं शिकार, तुरंत जान ले वरना बाद में पछताना पड़ेगा
Next articleकही आप इस तरह तो नही नहाते, अभी जान ले ये बात

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here