Home Latest News पंजाब मुख्यमंत्री कार्यालय ने टीजीटी कला संघ मांगपत्र पर की कार्यवाही

पंजाब मुख्यमंत्री कार्यालय ने टीजीटी कला संघ मांगपत्र पर की कार्यवाही

पंजाब सरकार ने वेतन आयोग की रिपोर्ट में वांछित संशोधनों के लिए हिमाचल प्रदेश राजकीय प्रशिक्षित कला स्नातक संघ के मांग-पत्र पर कार्यवाही की है।संघ के प्रदेश महासचिव विजय हीर ने पंजाब के मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव और वित्त मंत्री को पंजाब वेतन आयोग की रिपोर्ट में सुधार हेतु मांग पत्र भेजा था । पंजाब मुख्यमंत्री कार्यालय ने हीर के द्वारा उजागर की गई बातों को पंजाब वित्त सचिव के एपी सिंहा को भेजा है । हीर ने बताया कि वर्ष 2021 में दिए जा रहे स्केल के लिए 2011 के स्केल ही बेसिक स्केल होने चाहिए। क्योंकि उनको मिले हुए दस साल हो चुके हैं और संघ ने 2011 स्केल पर 2.59 का गुणांक मांगा है। संघ ने ए सी पी स्कीम बदलाव सूत्र 6-13-20-27 या 7-14-21-28 सुझाए हैं और भत्तों का लाभ 2016 से न देने पर वेतन गुणांक 2.74 और भत्तों में 0.9 गुणांक मांगा है। फुल पेंशन सेवाकाल 20 साल व प्रोबेशन एक साल करने, नई भर्तियों में वेतन न घटाने  की मांग भी संघ में उठाई है और वेतन आयोग को अपनी रिपोर्ट में स्पष्ट लिखने की अपील की है कि पंजाब के प्रावधान लागू करने हेतु अनुसरण करने वाले राज्य बाध्य नहीं हैं ताकि हिमाचल के कर्मचारियों पर अनुचित प्रावधान न थोपे जाएं। संघ ने इससे पूर्व पंजाब वेतन आयोग शिकायत निवारण समिति गठन का सुझाव दिया था जो माना गया है। संघ ने स्पष्ट किया है पंजाब द्वारा उचित संशोधन न होने पर व्यापक उसके विरुद्ध आंदोलन किया जाएगा।

Previous articleअमृत महोत्सव में सम्मानित होंगे पांच किसान
Next articleप्रदेश एवं देशवासियों को महामारी से बचाने के लिए कोरोना वैक्सीन अवश्य लगवायें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here