Home Latest News दिल्ली के छतरपुर में सीडीआर चौक के पास बीच सड़क पर बने...

दिल्ली के छतरपुर में सीडीआर चौक के पास बीच सड़क पर बने एक धार्मिक स्थल की दीवार तोड़ने के आरोप में मेहरौली थाना पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया

दिल्ली के छतरपुर में सीडीआर चौक के पास बीच सड़क पर बने एक धार्मिक स्थल की दीवार तोड़ने के आरोप में मेहरौली थाना पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपी रंजीत और कनिष्क बसई धारापुर गांव के रहने वाले हैं और दोस्त हैं। पुलिस ने दोनों के पास से दीवार तोड़ने के औजार भी जब्त किए है। प्राथमिक जांच में सामने आया है कि रंजीत आईटीआई से ट्रेनिंग कर रहा है और कनिष्क बीबीए की पढ़ाई कर रहा और अंतिम वर्ष का छात्र है। दोनों इस धार्मिक स्थल का एक वायरल वीडियो देखकर इस हटाने पहुंचे थे। फिलहाल पुलिस दोनों आरोपियों से पूछताछ कर रही है।
पुलिस अधिकारी ने बताया कि मंगलवार शाम करीब 5.40 बजे मेहरौली थाने को सूचना मिली कि दो लोग औजार लेकर आए हैं और धार्मिक स्थल पर तोड़फोड़ कर रहे हैं। तुंरत मेहरौली थाना पुलिस मौके पर पहुंची तो दोनों युवक दीवार तोड़ने की कोशिश कर रहे थे। पुलिस ने तुंरत दोनों को रोका और गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने धार्मिकस्थल पर मौजूद वहां देखरेख का काम करने वाले शख्स के बयान पर आईपीसी की धारा 295/295A/186/353/34 के तहत केस दर्ज कर लिया। दोनों आरोपियों ने गिरफ्तारी के बाद पुलिस को पूछताद में बताया कि गत दिनों इस धार्मिक स्थल का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।
वायरल वीडियो में एक महिला धार्मिक स्थल वजह से एमबी रोड पर लंबा जाम का जिक्र करते हुए बीच सड़क पर इसके बनाए जाने का विरोध कर रही थी। महिला ने इस धार्मिक स्थल के पास रखा सामान भी फेंक दिया था। आरोपियों ने बताया है कि यह वीडियो उन्होंने भी देखा था और तभी से वह इस धार्मिक स्थल को यहां से हटाने के बारे में जानकारी जमा कर रहे थे। लेकिन जब उन्हें कोई रास्ता नहीं नजर आया तो वह खुद औजार लेकर उसे हटाने के लिए पहुंच गए। लेकिन जैसे ही उन्होंने वहां जाकर दीवार हटाना शुरू किया, तो वहां मौजूद शख्स ने पुलिस को फोन कर दिया और पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया।
महिला को भी किया गया था गिरफ्तार
वायरल वीडियो में मौजूद महिला को भी पुलिस ने बाद में गिरफ्तार कर लिया था। पुलिस ने वायरल वीडियो के जरिए उसकी पहचान की थी और धार्मिक स्थल के व्यवस्थापक की शिकायत पर केस दर्ज कर उसे उसके घर से गिरफ्तार किया था।

Previous articleउत्तर प्रदेश में पिछड़े वर्ग के इण्टरमीडिएट पास बेरोजगार युवक / युवतियों में से चयनित प्रशिक्षणार्थियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आगामी पहली सितम्बर से शुरू होगा
Next articleउत्तराखंड में मंगलवार को कोरोना के 31 नए मरीज मिले और एक संक्रमित की मौत हो गई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here