Home Latest News तरवागड़ा पंचायत में 15वें वित्त में गड़बड़झाला, बिना काम किए निकाल ली...

तरवागड़ा पंचायत में 15वें वित्त में गड़बड़झाला, बिना काम किए निकाल ली 50%राशि

बिना काम के प्राक्कलित राशि का 50% से अधिक अग्रिम देने के बावजूद नहीं बनी सड़क….
ग्रामीणों ने श्रमदान कर पूर्व बनाये है सड़क……
मुखिया व पंचायत सचिव ने अपने चहेता को दिया पीसीसी योजना 10 माह बाद भी नहीं बनी पीसीसी सड़क….
चहेता ने बिना बनाये आधे राशि की कर ली निकासी
चतरा : हण्टरगंज प्रखंड के तरवागड़ा पंचायत में 15वें वित्त की राशि बिना काम कराए बंदरबांट किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। मामला पंचायत के आदर्श ग्राम तेतरिया का है, जहां मुखिया दिलीप कुमार दास ने अपने चहेते बिचौलियों को सरकारी प्रावधानों की धज्जियां उड़ाते हुए योजना की प्राक्कलित राशि का आधा से अधिक राशि बिना काम कराए भुगतान कर दिया। जानकारी के मुताबिक उक्त मद से (1,20,000) एक लाख बीस हजार की लागत से राजकुमार सिंह के घर से धनंजय सिंह के घर तक पीसीसी सड़क बनाने के लिए योजना का एकरारनामा अक्टूबर 2020 में किया गया था। इस योजना के अभिकर्ता गांव के ही राजकुमार सिंह तथा दिलीप सिंह हैं। उक्त योजना में बिना काम कराए हुए लागत का 50% से अधिक 65000/- की राशि बतौर अग्रिम दे दिया गया। यह राशि दिनांक 12 अक्टूबर 2020 को अभिकर्ता के संयुक्त खाते में मुखिया तथा पंचायत सचिव के डिजिटल हस्ताक्षर से अंतरण (ट्रांसफर) कर दी गई। इसके बाद उक्त खाते से दिनांक 13 अक्टूबर 2020 को संपूर्ण राशि की निकासी अभिकर्ताओं के द्वारा कर ली गई। राशि निकासी किए जाने के बावजूद लगभग 10 महीने बाद भी सड़क निर्माण कार्य आरंभ नहीं किया गया है। सड़क नहीं बनने से ग्रामीणों को आवागमन में काफी असुविधा हो रही है। यहां के ग्रामीण श्रमदान कर खराब पथ की मरम्मति कर चलने के लायक बना रहे हैं। जबकि सड़क निर्माण की सरकारी राशि का निकासी कर अभिकर्ता मस्ती कर रहे हैं। इस बाबत पंचायत सचिव अंजन कुमार ने बताया कि पंचायत के मुखिया दिलीप कुमार दास के व्यक्तिगत अनुरोध पर उक्त राशि बिना काम कराए सिर्फ एकरारनामा कर बतौर अग्रिम के दी गई है।
बीडीओ ने कहा : इस वित्तीय अनियमितता के संबंध में पूछे जाने पर बीडीओ मुरली यादव ने कहा कि इस तरह का मामला संज्ञान में नहीं है। इसकी जांच कराई जाएगी। मामला सत्य पाये जाने पर दोषियों के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करते हुए विधि सम्मत कार्रवाई की जाएगी।

Previous articleपीएफ की मांग को लेकर सैनिक कम्पनी से निकाले गये मजदूरो ने किया विरोध प्रदर्शन
Next articleसांडी में फिर दिखे तेंदुएं के पगचिह्न,मौके पर पहुंची वनविभाग टीम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here