Home Latest News गणित के साथ बीटेक और बीएड करके टीजीटी परीक्षा में शामिल होने...

गणित के साथ बीटेक और बीएड करके टीजीटी परीक्षा में शामिल होने की आस लगाए युवाओं को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बड़ा झटका दिया

गणित के साथ बीटेक और बीएड करके टीजीटी परीक्षा में शामिल होने की आस लगाए युवाओं को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बड़ा झटका दिया है. हाईकोर्ट ने गणित विषय के साथ बीटेक और बीएड को टीजीटी शिक्षक भर्ती में शामिल होने के योग्य नहीं माना है. अदालत ने उनकी याचिका खारिज कर दी है. यह आदेश प्रशांत सिंह की याचिका पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति अश्वनी कुमार ने दिया है. हाईकोर्ट में सरकार का पक्ष रखते हुए सरकारी वकील ने दलील दी कि टीजीटी शिक्षक भर्ती के लिए योग्यता गणित विषय से बीए या बीएससी है. इसके समक्ष किसी डिग्री को मान्यता नहीं दी गई है. साथ ही आवेदन की अंतिम तिथि 15 अप्रैल 2021 भी ओवर हो चुकी है.
अधिवक्ता वीके चंदेल और मयंक चंदेल ने कहा कि याची की नियुक्ति सर्वोदय विद्यापीठ इंटर कॉलेज मीरगंज, जौनपुर में तदर्थ रूप से प्रबंध समिति ने की है. अनुमोदन और वेतन के लिए जिला विद्यालय निरीक्षक को पत्रावली भेजी गई है. कोर्ट ने जिला विद्यालय निरीक्षक को इस पर फैसला लेने का निर्देश दिया था. लेकिन इस पर कोई निर्णय नहीं लिया गया.
प्रदेश में 1585 तदर्थ शिक्षक हैं कार्यरत
सरकार ने अदालत में बताया कि यूपी में इस वक्त कुल 1585 तदर्थ शिक्षक कार्यरत हैं. जिसमें से 1311 अध्यापकों को कोर्ट के आदेश से वेतन दिया जा रहा ह. जबकि 274 को वेतन नहीं दिया जा रहा है. याचिका कर्ता का कहना था कि वह नियमानुसार तदर्थ शिक्षक के रूप में नियुक्त किया गया था. यह नियुक्ति नियमित नियुक्ति होने तक ही की गई थी. गणित विषय के साथ बीएड और बीटेक की डिग्री को भर्ती में शामिल होने योग्य नहीं माना गया.

Previous articleमुजफ्फरपुर जिले के देवरिया के रामलीला गाछी में शुक्रवार को मेले में पशु बलि रोकने पहुंची पुलिस पर लोगों ने लाठी-डंडे व बांस से हमला कर दिया
Next articleखुसरूपुर स्टेशन के पूर्वी केबिन के समीप हावड़ा पटना जनशताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन से कटकर तीन लोगों की घटनास्थल पर ही मौत

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here