कोरोनावायरस ने भारत में ऐसी तबाही मचाई  कि मरने वालों की भरमार लग गई।  ऐसा नहीं कि अभी कोरोनावायरस का खतरा टल गया है। अभी भी भारत में लगभग 28 हजार के करीब केसेस रोजाना आ रहे हैं। हालांकि केसों में लगातार कमी हो रही है लेकिन हमें अब भी ध्यान रखना चाहिए वैज्ञानिकों का ऐसा मानना है तीसरी लहर अभी आनी बाकी है। 
अगर तीसरी लहर आती है तो वह दूसरी लहर से कितनी खतरनाक होगी और भारत को कितना नुकसान पहुंचाएगी यह वक्त ही बताएगा। मगर सबसे पहले अगर हम और हमारी सरकार सावधानी बरतनी है तो केसों में भारी संख्या में कमी की जा सकती है। इसलिए अभी भी हमको बिना मास्क नहीं घूमना चाहिए। 
जहां तक हो सके भीड़ में भी दूरी बनाकर चलना ही उचित रहेगा। कोरोनावायरस का इस समय जो वैरीअंट भारत में मौजूद है उसे डेल्टा प्लस नाम दिया गया है। डेल्टा प्लस काफी खतरनाक बताया जाता है। इतना ही नहीं कुछ वैज्ञानिकों का ऐसा भी मानना है कि इस वायरस पर वैक्सीन का भी कोई असर नहीं होता है। 
इसलिए हमें अपनी सुरक्षा स्वयं करनी चाहिए और सरकार द्वारा बताए गए नियमों का लगातार पालन करना चाहिए। ताकि हम सुरक्षित रहें। इसके साथ-साथ दूसरे लोगों को भी सुरक्षित रखें। अगर इन सब बातों का ध्यान नहीं रखा जाता है तो भविष्य में एक बार फिर खतरा बड़ा आने की संभावना हो सकती है। 
इसलिए हमें सावधानी पूर्वक रहना चाहिए। आज मैं आपको भारत के प्रमुख राज्यों के बारे में वह डाटा उपलब्ध कराने जा रहा हूं जिसमें प्रदेश  वाइज बताया गया है कि कितने लोग कोरोना से प्रभावित हुए और कितने लोगों की मौत हुई है।

कोरोनावायरस का प्रदेश वाइज डेटा 

प्रदेश का नाम केस मौतें
महाराष्ट्र 65,40,000 1,39,000
केरल 46,50,000 24,810
कर्नाटक 29,70,000 37,763
तमिलनाडु 26,60,000 35,526
आंध्र प्रदेश 20,50,000 14,150
उत्तर प्रदेश 17,10,000 22,891
पश्चिम बंगाल 15,70,000 18,764
दिल्ली 14,40,000 25,087
उड़ीसा 10,30,000 8,187
छत्तीसगढ़ 10,10,000 13,564
राजस्थान 9,54,000 8,954
गुजरात 8,26,000 10,082
मध्य प्रदेश 7,93,000 10,520
हरियाणा 7,71,000 9,874
बिहार 7,26,000 9,660
तेलंगाना 6,66,000 3,915
पंजाब 6,02,000 16,509
आसम 6,01,000 5,861
झारखंड 3,48,000 5,135
उत्तराखंड 3,44,000 7,393
जम्मू और कश्मीर 3,29,000 4,422
कुल योग 32590000 432067

डेटा सोर्स-सरकारी स्वास्थ्य मंत्रालय

Share.

Leave A Reply

error: Content is protected !!