लखीमपुर खीरी में 3 कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों की बेरहमी से हत्या कर दी गई। जिसे देखने जा रहे हैं भीम आर्मी चीफ एवं आजा समाज पार्टी के नेता चंद्र शेखर आजाद को पुलिस ने खैराबाद टोल प्लाजा पर रोका। चंद्रशेखर आजाद ने ट्वीट करते हुए लिखा की किसानो के हत्यारों को पकड़ने के बजाय यूपी पुलिस खैराबाद टोल प्लाजा पर सैकड़ों पुलिसकर्मी लगाकर हमें रोक कर खड़ी है। 

किसानों से मिलने जा रहे भीम आर्मी चीफ को पुलिस ने रोका 

हम पीड़ित किसानो को न्याय दिलाएंगे जरूर। वहीं कांग्रेस के कन्हैया कुमार ने ट्वीट करते हुए लिखा है की मिट्टी को रौंदकर सोना बनाने वाले किसानों को ही भाजपा गाड़ियों से रौंद रही हैं। सुन लो बेईमान, किसानो के ऊपर गाड़ियां चढ़ा कर उनकी मांग को कुचल नहीं पाओगे लेकिन भारत के किसान तुम्हारे सत्ता के अहंकार को जरूर कुचल देंगे।

 

कन्हैया कुमार ने किसानो की इस हत्या को लखीमपुर किसान नरसंहार बताया है। वही चंद शेखर आजाद ने अपने दूसरे ट्वीट में कहा है कि मैं तत्काल लखीमपुर खीरी घटनास्थल के लिए निकल रहा हूं। दुख की इस घड़ी में हम अपने पीड़ित किसान भाइयों के साथ खड़े हैं। किसानो की शहादत बेकार नहीं जाएगी हम  हत्यारों को सजा दिला कर ही हम दम लेंगे। 

चाहे वह मंत्री का बेटा हो या फिर कोई और गुर्गा सभी लोग किसानों का साथ दें। किसानो की बेरहमी से की गई हत्या से एक बार उत्तर प्रदेश की राजनीति फिर गरमा गई है। सभी राजनीतिक पार्टियां लखीमपुर खीरी पहुंच रही हैं। जबकि पुलिस द्वारा उन्हें खैराबाद टोल प्लाजा पर रोका जा रहा है।

Share.

Leave A Reply

error: Content is protected !!