Home Latest News उत्तर प्रदेश में पिछड़े वर्ग के इण्टरमीडिएट पास बेरोजगार युवक / युवतियों...

उत्तर प्रदेश में पिछड़े वर्ग के इण्टरमीडिएट पास बेरोजगार युवक / युवतियों में से चयनित प्रशिक्षणार्थियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आगामी पहली सितम्बर से शुरू होगा

उत्तर प्रदेश में पिछड़े वर्ग के इण्टरमीडिएट पास बेरोजगार युवक / युवतियों में से चयनित प्रशिक्षणार्थियों का प्रशिक्षण कार्यक्रम आगामी पहली सितम्बर से शुरू होगा। प्रदेश के पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग द्वारा के लिए सरकार से मान्यता प्राप्त संस्थाओं के माध्यम से ओ-लेवल एवं सीसीसी कम्प्यूटर प्रशिक्षण योजना संचालित की जा रही है। इस योजना के तहत पिछड़े वर्ग के गरीब छात्र-छात्राओं को कौशल विकास प्रदान करने के लिए कम्प्यूटर प्रशिक्षण दिया जाता है।
पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार कम्प्यूटर प्रशिक्षण योजना के तहत वर्ष 2021-22 में 1500 लाख रुपये के बजट का प्राविधान है। वर्ष 2020-21 में इस योजना में उपलब्ध बजट 1461.02 लाख रुपये से 8496 लाभार्थियों को ओ-लेवल और 8379 लाभार्थियों को सीसीसी कम्प्यूटर प्रशिक्षण प्रदान कराया गया। इस प्रकार कुल 16875 प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण प्रदान कराया गया है।
उल्लेखनीय है कि इस योजना के तहत ओ-लेवल कम्प्यूटर प्रशिक्षण के लिए भुगतान की जाने वाली धनराशि अधिकतम 15,000 रुपये प्रति प्रशिक्षार्थी तथा सीसीसी कम्प्यूटर प्रशिक्षण के लिए 3500 रुपये अधिकतम धनराशि सीधे संस्था को भुगतान किये जाने की व्यवस्था है।

Previous articleउत्तर प्रदेश सरकार वित्तीय वर्ष 2021-22 का पहला अनुपूरक बजट विधानमंडल में आज पेश करेगी
Next articleदिल्ली के छतरपुर में सीडीआर चौक के पास बीच सड़क पर बने एक धार्मिक स्थल की दीवार तोड़ने के आरोप में मेहरौली थाना पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here