Home Latest News उत्तर प्रदेश के 15 जिलों के 257 गांव बाढ़ की चपेट में...

उत्तर प्रदेश के 15 जिलों के 257 गांव बाढ़ की चपेट में आ गए, आइए जानें

प्रदेश के 15 जिलों के 257 गांव बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। इनमें से 11 जिलों बदायूं, बलिया, गाजीपुर में गंगा नदी, इटावा, औरैया, जालौन, हमीरपुर में यमुना नदी, बांदा, हमीरपुर, बेतवा नदी, पलियाकला खीरी में शारदा नदी व गोंडा में क्वानो चंद्रीघाट खतरे के निशान के ऊपर बह रही है। जालौन में बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए सेना की मदद ली जा रही है। कन्नौज में गंगा नहा रहे बुआ-भतीजा और हमीरपुर में एक इंटर का छात्र लहरों में बह गए।
राहत आयुक्त रणवीर प्रसाद ने रविवार को बताया कि प्रदेश के सभी तटबंध पूरी तरह से सुरक्षित हैं। संबंधित जिलों के डीएम को जरूरी राहत कार्य शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं। राहत आयुक्त कार्यालय के मुताबिक आगरा में 20 गांव, औरैया 24, बहराइच दो, बलिया चार, बांदा चार, चंदौली तीन, इटावा 67, फर्रुखाबाद में 24 गांव बाढ़ से प्रभावित हैं। इसी तरह गोंडा में दो, गोरखपुर सात, हमीरपुर 62, जालौन 67, कानपुर देहात 24, कानपुर नगर दो, कौशांबी के छह गांव बाढ़ से प्रभावित हैं।
वायुसेना के हेलीकाप्टर लगाए गए
जालौन की तहसील माधोगढ़ के 10 गांवों व तहसील कालपी के पांच गांवों का चंबल नदी व यमुना नदी में आई बाढ़ से संपर्क टूट गया है। इन गांवों में फंसे परिवारों को राहत पहुंचाने के लिए वायु सेना के दो हेलीकाप्टरों की मदद से राहत सामग्री पहुंचाई जा रही है। वायुसेना के इन हेलीकाप्टर से माधोगढ़ के 10 गांवों में 1500 व्यक्तियों राहत पहुंचाई गई। हमीरपुर में यमुना खतरे के निशान तीन मीटर जबकि बेतवा दो मीटर ऊपर पहुंच गई है। कई और गांवों में पानी घुसने से सैकड़ों ग्रामीण बाढ़ में फंस गए हैं। संपर्क मार्गों में कई-कई फिट पानी भरने से गांवों का संपर्क कट गया है जिससे मुश्किलें और बढ़ गई हैं। उफनाती चंद्रावल नदी में नहा रहा इंटर का छात्र लहरों में बहा गया, गोताखोर उसकी खोज में लगे हैं। चित्रकूट में संकट और बढ़ गया है। राजापुर-बबेरू मुख्य मार्ग पर पानी पहुंचने से आवागमन बंद हो गया है, इससे गांवों का संपर्क कट गया। राहत आयुक्त ने बताया कि बाढ़ से बचाव के लिए राहत कार्य शुरू कराए जा चुके हैं। जरूरत के आधार पर लोगों को मदद पहुंचाई जा रही है।
उन्होंने बताया कि प्रदेश में 828 बाढ़ शरणालय स्थापित कराए गए हैं। विगत 24 घंटे में 1230 लोगों को राशन किट बांटा गया। अब तक प्रदेश भर में कुल 7015 प्रभावितों को राहत किट बांटी जा चुका है। 24 घंटे दौरान 7491 लंच पैकेट बांटे जा चुके हैं। जरूरत के आधार पर 1133 नाव बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए लगाए गए हैं। प्रदेश भर में 976 बाढ़ चौकियां बनाई गई हैं। इटावा, जालौन, बहराइच, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, गोरखपुर, लखनऊ, बलिया व वाराणसी में एनडीआरएफ की 10 टीमें लगाई गई हैं। इटावा, जालौन, बरेली, बिजनौर, लखनऊ, बलरामपुर, प्रयागराज, आगरा, गोरखपुर, अयोध्या, बलिया व कुशीनगर में एसडीआरएफ की 12 टीमें लगाई गई हैं। सीतापुर, प्रयागराज, बरेली, आजमगढ़, मुरादाबाद, गोरखपुर, गोंडा, लखनऊ, वाराणसी, कानपुर, गाजियाबाद, एटा व मेरठ में पीएसी की 17 टीमें बाढ़ प्रभावितों की मदद के लिए लगाई गई हैं।
मुख्यमंत्री के निर्देश पर मंत्री ने किया हवाई दौरा
राजस्थान व मध्य प्रदेश में भारी बारिश के कारण धौलपुर से चंबल नदी का पानी छोड़े जाने के कारण इटावा व औरैया में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ने इन दोनों क्षेत्रों का हवाई सर्वे किया। जालौन में प्रभारी मंत्री नीलिमा कटियार ने नाव से रामपुरा के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा किया और अधिकारियों को राहत कार्य तेज करने के निर्देश दिए। फतेहपुर में मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने बाढ़ प्रभावित इलाकों की स्थिति देखी।
अवध क्षेत्र में बारिश का इंतजार, धान की फसल पर असर
लखनऊ। एक तरफ जहां प्रदेश के कई जिलों में बाढ़ ने तबाही मचाई हुई है वहीं अवध क्षेत्र में लोग बारिश का इंतजार कर रहे हैं। कम वर्षा से धान की फसल खराब हो रही है। लखनऊ में दो दिन से एक बूंद भी पानी नहीं गिरा। श्रावस्ती व रायबरेली में एक सप्ताह से बारिश नहीं हुई है। गोण्डा में सरयू और घाघरा का जलस्तर खतरे के निशान से तीस सेंटीमीटर नीचे है। सुलतानपुर में भी सूखे जैसी स्थिति है। सीतापुर और अम्बेडकरनगर में रविवार को हल्की बारिश हुई है। शारदा नदी का जलस्तर सामान्य है, जबकि घाघरा का जलस्तर घटा है।

Previous articleमौसम विभाग ने अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के विभिन्न इलाकों में कहीं हल्की से सामान्य तो कहीं भारी बारिश होने का अनुमान जताया
Next articleमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने देश और प्रदेश में हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर को लेकर कांग्रेस और समाजवादी पार्टी का बिना नाम लिए करारा हमला किया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here