Home Astrology इस दिशा में भूल से भी महिलाओं को नहीं करना चाहिए श्रंगार,...

इस दिशा में भूल से भी महिलाओं को नहीं करना चाहिए श्रंगार, जानिए क्यों

श्रृंगारा नौ रसों में से एक है, जिसका आमतौर पर कामुक प्रेम, रोमांटिक प्रेम, या आकर्षण या सौंदर्य के रूप में अनुवाद किया जाता है।
श्रृंगार करना किस महिला को पसंद नहीं होता। इसे जहां एक शादीशुदा महिला के सुहागिन होने की निशानी माना जाता है, वहीं आजकल के फैशन के दौर में श्रृंगार करना बेहद जरूरी सा हो गया। ऐसा इसलिए कि हर महिला खुद को खूबसूरत और स्टाइलिश दिखाने में कोई कमी नहीं छोड़ना चाहती। वह सोचती हैं कि मैं कितना श्रृंगार कर लूं कि सबसे ज्यादा सुंदर लगूं। यह लेख पूरी तरह से रंगीन दुनिया ग्रुप्स की प्रापर्टी है। इसे कॉपी करना कानूनी तौर से इलीगल है।
महिलाओं के श्रृंगार में सिंदूर के बहुत मायने होते हैं। यह माना है कि जो पत्नियां अपनी मांग में सिंदूर भरती है तो उनके पति की लंबी उम्र होती है। यह लेख पूरी तरह से रंगीन दुनिया ग्रुप्स की प्रापर्टी है। लेकिन क्या आप जानती है कि महिलाओं को श्रृंगार करते समय कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए, वर्ना यह उनके पति के लिए अशुभ हो सकता है।
श्रृंगार करते समय पत्नी को कभी भी दक्षिण दिशा की ओर चेहरा करके सिंदूर नहीं लगाना चाहिए। ऐसा करने से पति की उम्र कम होती हैं। इसके साथ ही पत्नी को अपने श्रृंगार में टूटी-फूटी वस्तुओं का प्रयोग नहीं करना चाहिए। यह भी उनके पति के लिए अशुभ साबित हो सकती है। अगर आप भी अपने पति से बेहद प्यार करती हैं और उनकी लंबी उम्र की कामना करती हैं, तो इन बातों का खास ख्याल रखें।
Previous articleबिहार में होने वाले पंचायत चुनावों को लेकर निर्वाचन आयोग द्वारा तैयारियां लगातार जारी
Next articleसावन के महीने में करें ये छोटा काम मिटेंगे सभी वास्तु दोष

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here