आंखों की रोशनी: इंसान के शरीर के सभी अंग लगभग बहुत ही महत्वपूर्ण होते हैं। जिनमें से आंखों का अपना अलग ही स्थान है। आंखों के ना होने पर दुनिया हो या देश व्यक्ति को कुछ भी पता नहीं लग पाता है। किसी तरह की खूबसूरती हो या गंदगी इंसान उसमें पता नहीं लगा पाता। 
आंखें हैं तो दुनिया है, आंखें नहीं हैं तो दुनिया नहीं है। एक कहावत है “जान है तो जहान है” इसी तरह “आंखें हैं तो जहान है वरना सभी सुनसान है“।  आज मैं आंखों के बारे में ही बताने जा रहा हूं। आज के समय के खान-पान के कारण और बढ़ते प्रदूषण इसके अलावा बढ़ते मोबाइल और टीवी के कारण आंखों की रोशनी काफी तेजी से कम हो रही है। 
ऐसा नहीं कि इसके सिर्फ बुजुर्ग या जवान व्यक्ति ही शिकार होते हैं बल्कि भारी संख्या में बच्चे भी इसके शिकार होते जा रहे हैं। उनकी आंखों की रोशनी कम हो जाती है और फिर उन्हें काफी मोटा चश्मा लगाना पड़ता है। आज के समय में 5 से लेकर 10 साल के बच्चे तक भी आपको देखने को मिल जाएंगे। जिनकी आंखों पर चश्मा लगा हुआ होगा। 
आज मैं एक ऐसे उपाय के बारे में बताऊंगा जिससे आंखों की रोशनी को कम होने से  बचाया जा सकता है। यह उपाय देसी है और गांव में लोग इसको बहुत काफी संख्या में इस्तेमाल भी करते हैं। इसलिए गांव में रहने वाले बच्चों पर आंखों का असर कम रहता है। आइए जानते हैं उस उपचार के बारे में-

आंखों की रोशनी बढ़ाने का शानदार उपाय 

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए या फिर उसे बरकरार रखने के लिए सबसे पहले आपको सफेद काली मिर्च 50 ग्राम लेनी हैं। इसके बाद उस काली मिर्च को अच्छी तरीके से पीस लें। ध्यान रहे काली मिर्च सिर्फ सफेद ही होनी चाहिए जो आसानी से कहीं भी बाजार में मिल जाती है।
50 ग्राम पिसी हुई कालीमिर्च को लगभग आधा किलोग्राम देशी घी में  मिला ले और उसमें लगभग 250 ग्राम गुड मिला लें। इसके बाद चूल्हे पर चढ़ा कर उसे गर्म करना शुरू कर दें। जब हल्का गाढ़ा पाग तैयार हो जाए तो उसे उतार लें और ठंडा करने के बाद किसी कांच के बर्तन में रख ले। 
अब आपको बच्चों को सिर्फ आधा चम्मच और बड़ों को एक चम्मच सुबह खाली पेट और शाम को खाना खाने से पहले देना है। इससे बहुत ही जल्दी आंखों की रोशनी बढ़ जाती है। इसमें लगभग 1 महीने का समय लगता है। इसके साथ ही विटामिन ए युक्त चीजों का भी सेवन करें। जिसमें गाजर, पपीता इत्यादि को शामिल कर सकते हैं।
नोट-इस नुस्खे को प्रयोग करने से पहले अपने डॉक्टर या हकीम से परामर्श अवश्य ले लें।
Share.

Leave A Reply

error: Content is protected !!