हरदोई के माधौगंज में  एक अस्पताल का मामला सामने आया है। जिसमें एक अस्पताल की ऐसी करतूत सामने आई है। जिसमें इतनी बड़ी ठगाई हो रही है। जिसे जानने के बाद हर कोई परेशान हो सकता है। एक गर्भवती महिला से बिल के रूप में ₹17000 के बजाए ₹60000 सिर्फ दो यूनिट खून के लिए वसूले गए। 
डॉक्टर को देखा जाए तो भगवान का दूसरा रूप माना जाता है। लेकिन वर्तमान समय में कुछ डॉक्टर इलाज के नाम पर गरीब और मासूम लोगों को ठगने और लूटने का काम कर रहे हैं। ऐसे डॉक्टरों को यह नहीं पता कि उनके मरीजों का उन पर कितना भरोसा होता है और गरीबों का भरोसा तोड़ना फिलहाल तो अच्छा नहीं होता। 

अस्पताल में इलाज के नाम पर हो रही जमकर लूट

इसी कड़ी में हरदोई के माधौगंज में  एक हॉस्पिटल का मामला सामने आया है। जिसमें एक अस्पताल की ऐसी करतूत सामने आई है। जिसमें इतनी बड़ी ठगाई हो रही है। जिसे जानने के बाद हर कोई परेशान हो सकता है। एक गर्भवती महिला से बिल के रूप में ₹17000 के बजाए ₹60000 सिर्फ दो यूनिट खून के लिए वसूले गए। 
इसके बाद जब पीड़ित परिवार के लोग व उसके सहयोगी डॉक्टर से बात करने गए तो डॉक्टर के घर की महिलाओं ने उन लोगों के साथ जमकर अभद्रता भी की। हॉस्पिटल पर यह भी आरोप लगाया गया कि अस्पताल के द्वारा मरीजों को एक्सपायरी डेट की दवाएं दी जा रही हैं। इसके अतिरिक्त एक पत्रकार जब इस मामले की छानबीन करने वहां गया तो वहां की महिलाओं और डॉक्टर के गुंडों द्वारा उस पत्रकार के कैमरे को छीनने की कोशिश की गई। 
हमारे संबाददाता के. शास्ता के अनुसार पत्रकार को पीटा भी गया ऐसा सुनने में आ रहा है। इसके अलावा वहां की महिलाओं ने पत्रकार पर दुष्कर्म का आरोप भी लगाने की धमकी भी दे डाली। जब पीड़ित लोगों द्वारा पुलिस को सूचना दी गई तब पुलिस ने पहुंचकर वहां मामले की जांच पड़ताल की। 
इसके साथ ही मौके पर वहां के ब्लाक प्रमुख भी आ गए।  उन्होंने भी अस्पताल के मालिक से बात की। अस्पताल में मरीजों को आर्थिक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जा रहा है. ऐसा मालूम पड़ रहा है। पीड़ित परिवारों ने अस्पताल के सामने धरना लगाना शुरू कर दिया इसके बाद पुलिस ने आकर अस्पताल पर कार्यवाही करने के आश्वासन देने के बाद लोग वहां से हटे। 
आपको बता दें, यह मामला माधौगंज के थाना अंतर्गत आने वाले न्यू मा हॉस्पिटल का है। जिसमें गैर तरीके से मरीजों से वसूली की जाती है। इतना ही नहीं यह  भी मामला सामने आया है की अस्पताल में आए मरीजों को एक्सपायरी डेट की दवाएं भी दी जाती हैं। 
जिससे मरीज और भी ज्यादा परेशान हो जाते हैं और उनसे और भी मनमानी वसूली की जाती है। हालांकि पुलिस के संज्ञान में मामला आ चुका है। अब इस अस्पताल पर क्या कार्यवाही होगी यह वक्त बताएगा हालांकि पुलिस मामले की अभी जांच कर रही है।
Share.

Leave A Reply

error: Content is protected !!